close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

INRC: नए अवतार में सातवां खिताब जीतना चाहेंगे गौरव गिल

तीन बार के एशिया पैसेफिक रैली चैम्पियन और छह बार के आईएनआरसी चैम्पियन गिल के लिए यह बिल्कुल नई शुरुआत होगी.

INRC: नए अवतार में सातवां खिताब जीतना चाहेंगे गौरव गिल
गिल ने नए कीर्तिमान स्थापित करने के मकसद से यह करार किया है.

चेन्नई: देश के सबसे प्रतिष्ठित रैली चालकों में से एक गौरव गिल सहित देश के कई नामी चालकों के साथ शुक्रवार को चैम्पियंस याच क्लब-एफएमएससीआई इंडियन नेशनल रैली चैम्पियनशिप-2019 का आगाज हुआ. गौरव नए अवतार में अपना सातवां आईएनआरसी खिताब जीतना चाहेंगे. इस रैली में इस साल देश भर से आए पांच प्रमुख टीमों से ताल्लुक रखने वाले 51 टॉप चालकों ( इन टीम चैम्पियंस के 19 चालक शामल हैं) ने भारी भीड़ की मौजूदगी में नए सीजन का आगाज किया. एमएमआरटी में इस साल पहली बार सुपर स्पेशल स्टेज का निर्माण किया गया है और इससे दर्शकों को काफी करीब से एक्शन का लुत्फ लेने का मौका मिलेगा.

तीन बार के एशिया पैसेफिक रैली चैम्पियन और छह बार के आईएनआरसी चैम्पियन गिल के लिए यह बिल्कुल नई शुरुआत होगी, क्योंकि कुछ दिन पहले ही वह टीम एमआरएफ छोड़कर जेके टायर टीम से जुड़े हैं. गिल ने नए कीर्तिमान स्थापित करने के मकसद से यह करार किया है. महेंद्रा एडवेंचर की सवारी करने वाले गिल के साथ उनके पुराने और भरोसेमंद साथी मुसा शरीफ होंगे और ये दोनों प्रतियोगिता में नया आयाम स्थापित करने के लिए इस बार एक्सयूवी 300 की सवारी करेंगे.

ओपनिंग स्टेज से कुछ घंटे पहले आयोजित संवाददाता सम्मेलन में गिल ने कहा, "इस सीजन को लेकर मैं काफी रोमांचित हूं क्योंकि इस बार मैं न सिर्फ नई कार पर सवार रहूंगा बल्कि नए टायरों के साथ भी सफर करुंगा. मैंने कार को टेस्ट किया है और यह अपने क्लास में श्रेष्ठ है. मुझे यकीन है कि यह मेरी ड्राइविंग शैली के साथ तालमेल बनाने में सफल रहेगी."

एमआरएफ द्वारा समर्थित आईएनआरसी के राउंड-1, साउथ इंडिया रैली में इस साल चालक कुल 298.70 किलोमीटर की दूरी नापेंगे. इसमें से 117.33 किलोमीटर की दूरी में 11 स्पेशल स्टेज बनाए गए हैं. पहले दिन के एसएसएस के बाद दूसरे और तीसरे दिन पांच-पांच स्टेज को पार करना होगा, जिसमें चालकों को काफी मजा आएगा.

रेस प्रोमोटर वामसी मेर्ला ने कहा, "चैम्पियनशिप का यह परफेक्ट स्टार्ट है. हमें पहले ही रिकार्ड संख्या में इंट्रीज मिल चुकी है और यहां इस रेस के लिए काफी संख्या में दर्शक पहुंच रहे हैं. इससे अच्छी स्थिति और क्या हो सकती है."

हमेशा की तहह टीम महेंद्रा की दूसरी कार भी खिताब की दावेदार होगी. इसमें पूर्व रेसिंग और रैलिंग चैम्पियन अमित्राजीत घोष और उनके सहचालक अश्विन नाइक होंगे, जो आईएनआरसी 1 कटेगरी में अपनी चुनौती पेश करेंगे. इन दोनों को हालांकि एक अन्य आईएनआरसी चैम्पियन कर्णा कादूर और उनके सहचालक निखिल वी पाई से चुनौती मिलेगी. निखिल और कर्णा अर्का मोटरस्पोर्ट्स से ताल्लुक रखते हैं और दोनों आत्मविश्वास से भरपूर नजर आ रहे हैं.

आईएनआरसी 2 कटेगरी में भी काफी प्रतिस्पर्धा है. इसमें टीम चैम्पियंस के डीन मास्कारेनहास अपने साथी चालक श्रुप्था पाडीवेल के साथ, रेस कांसेप्ट के यूनुस इलियास अपने साथी चालक हरीश गौड़ा के साथ चुनौती पेश करते नजर आएंगे. इन दोनों टीमों को जेके का सहयोग प्राप्त है और इस कारण यह रेस और भी रोचक हो जाती है.

इसी तरह आईएनआरसी 3 में 22 प्रतिस्पर्धी हैं. अर्जुन राव, चेतन शिवराम औ्र दाराउस एन. श्राफ खिताब के दावेदार हैं. दो महिलाएं भी एक्शन में दिखेंगी. शिवानी पृथ्वी और गरिमा अवतार आईएनआरसी 4 में अपना दमखम दिखाना चाहेंगी. आईएनआरसी जूनियर कटेगरी में इस साल कुल आठ चालक हिस्सा ले रहे हैं.

(इनपुट-आईएएनएस)