जोस बटलर ने आखिर बता ही दिया, क्या कहा था उन्होंने अश्विन से मांकडिंग पर

जोस बटलर ने अपने मांकडिंग अंदाज में आउट होने पर खुलासा किया है कि आखिर उनके और अश्विन के बीच बात क्या हुई थी. 

जोस बटलर ने आखिर बता ही दिया, क्या कहा था उन्होंने अश्विन से मांकडिंग पर
जोस बटलर ने मांकडिंग घटना के बारे में खुल कर बात की. (फोटो IANS)

नई दिल्ली: इस साल के आईपीएल में सबसे विवादित मामला आर अश्विन के मांकडिंग तरीके से राजस्थान के जोस बटलर को आउट करने का था. इस मुद्दे पर खूब चर्चा और बहस हुई. दुनिया भर के खिलाड़ी और दिग्गज इस मुद्दे पर बंटे नजर आए. एक बार फिर से खेल के नियमों और खेल भावना के बीच अंतर पर बहस छिड़ गई. सवाल यह भी उठा कि क्या गेंदबाज का उसके छोर पर खड़े बल्लेबाज को  इस तरह से आउट करना ठीक है, वह भी बिना चेतावनी दिए. आउट होने के बाद बटलर अश्विन से खासे खफा नजर आए और दोनों के बीच बहस भी होती दिखी. अब बटलर ने बताया है कि आखिर दोनों के बीच बातचीत क्या हुई थी. 

इस मुद्दे ने फौरन अंग्रेजी अखबार से बात करते समय बटलर ने बताया कि इस विवादास्पद मौके पर उनकी क्या प्रतिक्रिया थी और उन्होंने अश्विन से क्या कहा. बटलर ने कहा कि अब वे इस घटना को पीछे छोड़ आगे बढ़ चुके हैं. इस मैच में 184 रनों की पीछा करते हुए राजस्थान की टीम ने 13वें ओवर में 108 रन बना लिए थे. क्रीज पर जोस बटलर के साथ संजू सैमसन मौजूद थे. तभी यह घटना हो गई. 

यह भी पढ़ें: प्वाइंट टेबल में अभी से आ गया है रोमांच, टॉप पर टिक नहीं पा रही है कोई टीम

पहले भी इस तरह से आउट हो चुके हैं बटलर
बटलर ने कहा, “ मैं निराश था. क्रिकेट में आमतौर पर यह नहीं होता है, लेकिन जब यह हुआ तब काफी निराशाजनक था. दुर्भाग्य से मैं इससे पहले भी इसी तरीके से आउट हो चुका हूं. मैं यह सुनिश्चित करूंगा कि मेरे साथ यह आगे न हो” इस मैच में बटलर ने 43 गेंदों में 69 रनों की तेज पारी खेली थी. इस पारी में वे पूरे फॉर्म थे. उनके विकेट ने मैच में एक तरह से टर्निंग प्वाइंट ला दिया. 

यह कहा था बटलर ने अश्विन से
अपने और अश्विन के बारे में हुई बातचीत के बारे में बटलर ने बताया, “मैंने अश्विन से सिर्फ यह पूछा कि क्या वे वाकई इसी तरह से खेल खेलना चाहते हैं. क्या उन्हें लगता है कि वे सही हैं. जाहिर है, कम से कम मेरे विचार में, उन्होंने सोचा होगा कि वे सही कर रहे हैं” बटलर के विकेट के बाद मैच एक तरह से पलट ही गया और राजस्थान की टीम 185 रनों के लक्ष्य का पीछा करने में नाकाम रही. 

दूसरे खिलाड़ियों पर कितना असर?
जब बटलर से पूछा गया कि क्या इस घटना से दूसरे बल्लेबाजों के माइंडसेट पर कोई विपरीत प्रभाव पड़ा, बटलर ने कहा कि उन्हें नहीं लगता. यह भी गौर करने वाली बात है कि बटलर के आउट होने के बाद भी राजस्थान एक समय मजबूत स्थिति में थी. क्योंकि 16.4 ओवर में उसका स्कोर केवल दो विकेट के नुकसान पर 148 रन हो गया था. इसके बाद राजस्थान की पारी पूरी तरह से बिखर गई. 

Mankading

यह भी पढ़ें: जो पिछले साल कोई टीम न कर सकी, वह इस साल कोलकाता के गेंदबाजों ने कर दिया

हारना निराशाजनक रहा
बटलर ने आगे कहा, “जब इस तरह का कुछ होता है और आप नहीं जानते कि आगे क्या होगा तो ऐसे में बाकी खिलाड़ियों पर होता है कि वे खेल को आगे ले जाएं. यह वाकई निराशाजनक था कि या तो उस घटना के कारण या हम ठीक से नहीं खेले. हमने बढ़िया क्रिकेट खेला था और जीत की ओर बढ़ भी रहे थे. इसके अलावा यह हमारा पहला मैच था और जीत हमारा आत्मविश्वास बढ़ा देती.”

यह भी पढ़ें: पंजाब की जीत में राहुल-मंयक की तूफानी पारी ऐसे पड़ी वार्नर पर भारी

16 रन पर गंवा दिए 9 विकेट
17वें ओवर के बाद राजस्थान की पारी लड़खड़ा गई और 164 के स्कोर होने तक टीम ने 9 विकेट गंवा दिए. इस तरह से पारी समाप्त होने तक राजस्थान के केवल 170 रन ही बन सके और टीम को 14 रनों से हार का सामना करना पड़ा.