ISL-5: मुंबई को हराकर टॉप-4 में पहुंचना चाहेगा जमशेदपुर, प्लेऑफ की दौड़ हुई रोचक

जमशेदपुर को अच्छी तरह पता है कि आगे का सफर तय करने के लिए उसे हर हाल में अपने बाकी सभी मैच जीतने होंगे और इसकी शुरुआत मुंबई के खिलाफ जीत से करनी होगी.

ISL-5: मुंबई को हराकर टॉप-4 में पहुंचना चाहेगा जमशेदपुर, प्लेऑफ की दौड़ हुई रोचक
जमशेदपुर की टीम अभी 20 अंकों के साथ पांचवें स्थान पर है. (फोटो साभार: आईएएनएस)

जमशेदपुर (झारखंड): जमशेदपुर एफसी को शुक्रवार को अपने घरेलू मैदान जेआरडी टाटा स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स स्टेडियम में मुंबई सिटी एफसी के खिलाफ खेलना है और मेजबान टीम हर हाल में यह मैच जीतकर हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन की अंक तालिका में अपनी स्थिति बेहतर करना चाहेगी. प्लेऑफ की दौड़ काफी रोचक हो गई है और जमशेदपुर को अच्छी तरह पता है कि आगे का सफर तय करने के लिए उसे हर हाल में अपने बाकी सभी मैच जीतने होंगे और इसकी शुरुआत मुंबई के खिलाफ जीत से करनी होगी.

जमशेदपुर की टीम अभी 20 अंकों के साथ पांचवें स्थान पर है. उसके खाते में अब सिर्फ चार मैच बचे हैं और ऐसी स्थिति में यह टीम किसी भी हाल में अंक बांटने की स्थिति में नहीं है. ऐसा हुआ तो प्लेऑफ में पहुंचने की उसकी उम्मीदों को तगड़ा झटका लगेगा.

कोच सीजर फेरांडो ने कहा, "अपने अंतिम तीन मैचों में हम एटीके के हाथों 1-2 से हारे, एफसी गोवा से ड्रॉ खेला और दिल्ली के खिलाफ जीत हासिल की. हमने इन मैचों में सिर्फ तीन गोल खाए, ऐसे में मैं यह नहीं कह सकता कि डिफेंस हमारे लिए चिंता का सबब है. हम काउंटर अटैक पर समय पर लगाम लगा सकते थे लेकिन इससे यह साबित नहीं होता कि डिफेंस अपना काम सही तरीके से नहीं कर रहा है."

सीजर की टीम अपने अंतिम पांच मैचों में से सिर्फ एक में जीत हासिल कर सकी है.

स्टार फारवर्ड टिम काहिल और माइकल सूसाइराज की गैरमौजूदगी में टीम कमजोर हुई है. साथ ही गौरव मुखी और कार्लोस काल्वो के निलंबित होने के कारण उसे और नुकसान हुआ है लेकिन मुंबई के खिलाफ अभी तक आईएसएल में अजेय रहने के कारण इस टीम को अपने अगले मैच को लेकर आत्मविश्वास मिला होगा.

मेजबान टीम को मुंबई के काउंटर अटैक की रणनीति से सावधान रहना होगा. मुंबई की टीम गेंद पर अपना कब्जा बनाए रखने की रणनीति के साथ जबरदस्त काउंटर अटैक करती है.

अर्नाल्ड इसोको, मोडोउ सोगू और रफाएल बास्तोस जैसे फारवर्ड मुंबाई के पास हैं और इनके रहते फारवर्ड लाइन की रफ्तार देखते ही बनती है. सोगू चोटिल होने के कारण मुंबई के बीते मैच में नहीं खेल सके थे लेकिन वह टीम के साथ जमशेदपुर आए हैं. वह खेलेंगे या नहीं, यह अभी तय नहीं है.

मुंबई के कोच कोस्टा ने कहा, "दोनों टीमें दबाव में हैं. हमारे पास भी कल के मैच के बाद सिर्फ तीन मैच रह जाएंगे. हमारा काम दबाव झेलना है और हम ऐसा करते हुए जीत हासिल करने का प्रयास करेंगे. मेजबान टीम पर अधिक दबाव होगा क्योंकि हम पहले ही टॉप-4 में हैं और यह टीम टॉ-4 में पहुंचने के लिए प्रयासरत है."

मुंबई की टीम यह मैच जीतकर 30 अंकों की मनोवैज्ञानिक बाधा को पार करना चाहेगी. इसके अलावा उसका प्रयास बेंगलुरू एफसी के करीब पहुंचना होगा, जो 31 अंकों के साथ पहले स्थान पर है.

(इनपुट-आईएएनएस)