close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पिता के निधन के बावजूद देश के लिए खेली हॉकी, जीतकर लौटी तो मां ने लगाया गले

लालरेमसियामी सोशल मीडिया पर काफी ट्रेंड कर रही हैं और लोग उनके इस कदम की काफी सरहाना कर रहे हैं. लालरेमसियामी का अपने पिता के अंतिम संस्कार में शामिल न होकर गेम खेलने का फैसला लोगों के लिए एक मिसाल बन गया. 

पिता के निधन के बावजूद देश के लिए खेली हॉकी, जीतकर लौटी तो मां ने लगाया गले
फोटो साभार- ANI

नई दिल्ली: भारतीय हॉकी टीम की 19 साल की महिला हॉकी टीम की खिलाड़ी लालरेमसियामी एफआईएच सीरीज में जापान को हरा कर मंगलवार को अपने गांव कोलासिब पहुंची. आपको बता दें, लालरेमसियामी के पिता की मृत्यु पिछले शुक्रवार यानी 21 जून को हुई थी लेकिन इस मुश्किल की घड़ी में लालरेमसियामी ने अपनी टीम का साथ देने और गेम खेलने का फैसला किया था. जिस कारण वह अपने पिता के अंतिम संस्कार में नहीं पहुंच पाई थी. 

अपने इस फैसले के बाद से ही लालरेमसियामी सोशल मीडिया पर काफी ट्रेंड कर रही हैं और लोग उनके इस कदम की काफी सरहाना कर रहे हैं. लालरेमसियामी का अपने पिता के अंतिम संस्कार में शामिल न होकर गेम खेलने का फैसला लोगों के लिए एक मिसाल बन गया. लालरेमसियामी के पिता की मौत शुक्रवार को हार्ट अटैक के कारण हुई थी. हालांकि, ऐसी स्थिति में भी लालरेमसियामी ने टीम को छोड़कर वापस न जाने का फैसला लिया. 

आपको बता दें, एफआईएच वूमेन सीरीज (FIH Women's Series) में भारत ने पहले चिली को 4-2 से हराया और फिर फाइनल्स में जापान को 3-1 से मात दी. भारतीय टीम की कप्तान रानी रामपाल ने मैच की जीत को लालरेमसियामी के पिता को समर्पित किया. मंगलवार को अपने गांव और अपने घर पहुंचते ही लालरेमसियामी अपने आंसू रोक नहीं पाईं और अपनी मां को गले लगा कर रो पड़ीं. इस दौरान मिजोरम सरकार के अधिकारी और उनके पूरे गांव के लोग वहां मौजूद थे.