हिमाचल में खिली धूप, लेकिन कड़कड़ाती ठंड से राहत नहीं

शिमला की ही तरह, अन्य प्रमुख पर्यटन स्थलों जैसे कि कुर्फी, नारकंडा, कसौली, धर्मशाला, पालमपुर, डलहौजी और मनाली में भी धूप निकली जिससे दिन में पारे में थोड़ा चढ़ाव देखने को मिला.

हिमाचल में खिली धूप, लेकिन कड़कड़ाती ठंड से राहत नहीं
शिमला में पर्यटकों ने चमचमाती धूप का आनंद लिया.

शिमला: हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के हिल स्टेशनों में रविवार की सुबह अच्छी धूप खिली, लेकिन कुछ स्थानों पर कड़ाके की ठंड की स्थिति अभी भी बरकरार है. कुछ इलाकों इस हफ्ते बर्फबारी की भी संभावना है. मौसम विभाग के अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी.

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया, "राज्य में 30 दिसंबर तक शुष्क मौसम की स्थिति बनी रहेगी. उसके बाद, राज्य में बर्फबारी और बारिश की संभावना है." राजधानी शिमला की बात करें तो यहां धूप खिली है, लेकिन तापमान 2.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है.

शिमला की ही तरह, अन्य प्रमुख पर्यटन स्थलों जैसे कि कुर्फी, नारकंडा, कसौली, धर्मशाला, पालमपुर, डलहौजी और मनाली में भी धूप निकली जिससे दिन में पारे में थोड़ा चढ़ाव देखने को मिला.

ये भी पढ़ें: जानिए देश का कौन सा ऐसा राज्य है जहां हर घर में पहुंचा LPG कनेक्शन

डलहौजी में तापमान 4.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि मनाली में तापमान शून्य से नीचे 2.6 डिग्री और धर्मशाला में 2.2 डिग्री रही.

लाहौल-स्पीति के हेडक्वार्टर केलांग में तापमान शून्य से नीचे 11 डिग्री और किन्नौर जिले के कल्पा में शून्य से नीचे 1.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

मौसम विभाग के अधिकारियों ने कहा कि 31 दिसंबर से राज्य के मध्य और ऊंची पहाड़ी इलाकों में बर्फ गिरने की भी संभावना है. इसमें आगे कहा गया, "31 दिसंबर से क्षेत्र में पश्चिमी विक्षोभ प्रवेश करने वाला है. अगर कुछ दिनों तक इसकी सक्रियता बनी रही तो अधिकांश पर्यटक स्थल बर्फ से लद जाएंगे."