Breaking News
  • गुजरात के दो कांग्रेसी विधायकों ने राज्य की चार सीटों के लिए राज्यसभा चुनाव से पहले इस्तीफा दिया
  • इस तरह गुजरात में कांग्रेस के सात विधायक अब तक इस्‍तीफा दे चुके हैं

चीन ने निकाला कोरोना वायरस का तोड़? संक्रमित मरीजों को 99.9% ठीक करने का दावा

कोरोना वायरस (Coronavirus) की महामारी लगभग पूरी दुनिया में फैल चुकी है.

चीन ने निकाला कोरोना वायरस का तोड़? संक्रमित मरीजों को 99.9% ठीक करने का दावा
प्रतीकात्मक फोटो

बीजिंग: कोरोना वायरस (Coronavirus) की महामारी लगभग पूरी दुनिया में फैल चुकी है. बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधा का दावा करने वाले देश भी COVID-19 के सामने हथियार डाल चुके हैं लेकिन ये सवाल इस समय हर किसी के मन में चल रहा है कि क्या चीनी वैज्ञानिक पहले से ही कोरोना वायरस की महामारी से लड़ने के लिए एक हथियार विकसित कर चुके हैं.

दरअसल चीन के एक अखबार ग्लोबल टाइम्स ने दावा किया है कि चीन के वैज्ञानिकों ने एक ऐसे नैनोमटेरियल को विकसित कर लिया है जो COVID-19 को डिएक्टिवेट करने में सक्षम है. रिपोर्ट के अनुसार, चीनी वैज्ञानिकों की एक टीम ने COVID-19 बीमारी से निपटने के लिए नया तरीका विकसित करने का दावा किया है. ये कोई दवा या यौगिक नहीं है बल्कि कुछ 'नैनोमटेरियल' है.

गौरतलब है कि चीनी अखबार में कहा गया कि उनके देश के वैज्ञानिकों ने कोरोना वायरस से मुकाबला करने के लिए एक ऐसा नैनोमटेरियल बनाया है जो COVID-19 वायरस को 96.5-99.9% तक अवशोषित और निष्क्रिय कर सकता है.

बता दें कि मेडिकल क्षेत्र के संबंध में ऐसे नैनोमटेरियल जिनमें एंजाइम की तरह विशिष्ट गुण पाए जाते हैं, उन्हें नैनोजाइम कहते हैं. नैनोमटेरियल का प्रयोग अलग-अलग प्रकार की निर्माण प्रक्रियाओं, उत्पादों और हेल्थकेयर जैसे कि पेंट, फिल्टर, इन्सुलेशन और ल्यूब्रिकेंट एडिटिव्स में होता है.

ये भी पढ़ें- दिल्ली: कोरोना जांच के लिए LNJP हॉस्पिटल लाया गया 34 लोगों का ग्रुप, एक बुजुर्ग की मौके पर मौत   

हालांकि चीन द्वारा अगर नैनोमटेरियल बनाने का ये दावा सही साबित होता है तो इसका मतलब ये होगा कि COVID-19 को पूरी तरह समाप्त किया जा सकेगा.

ये भी देखें-