close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: ट्रंप ने बेटी इवांका और विदेश मंत्री पोंपियो को बताया ''ब्‍यूटीफुल कपल'', शरमा गए दोनों

दक्ष‍िण कोर‍िया में एक कार्यक्रम में अमेर‍िकी राष्‍ट्रपत‍ि डोनाल्‍ड ट्रंप ने अपनी बेटी के लिए ही अजीबोगरीब स्‍थि‍त‍ि पैदा कर दी.

VIDEO: ट्रंप ने बेटी इवांका और विदेश मंत्री पोंपियो को बताया ''ब्‍यूटीफुल कपल'', शरमा गए दोनों

सियोल: अक्‍सर अपने विवादित ट्वीट के कारण आलोचनाओं में घिरने वाले अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने दक्षिण कोरिया में एक कार्यक्रम में अपनी जुबान पर ही काबू नहीं रख पाए. एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्‍होंने अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपियो और अपनी बेटी इवांका ट्रंप को ब्‍यूटीफुल कपल बता दिया. बाद में अपनी बात को ठीक करते हुए ट्रंप ने कहा, एक ब्‍यूटी है तो दूसरा स्‍मार्ट है.

रव‍िवार को दक्ष‍िण कोरिया के ओसान एयरबेस पर एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए अमेरिकी राष्‍ट्रपति ने पहले स्‍टेज पर विदेश मंत्री माइक पोंपियो को बुलाया. इसके बाद उन्‍होंने अपनी बेटी को भी स्‍टेज पर आने के लिए कहा. जब दोनों स्‍टेज पर आने लगे तो ट्रंप ने उन्‍हें ''ब्‍यूटीफुल कपल'' कह दिया. इतना सुनते ही माइक पोंपियों और इवांका ट्रंप दोनों शर्मा गए. हालांकि बाद में ट्रंप ने इसे संभालते हुए इवांका को ब्‍यूटी और माइक को स्‍मार्ट बताया.

बता दें कि डोनाल्‍ड ट्रंप रविवार को उत्‍तर कोरिया के नेता किम जोंग उन से मुलाकात करने पहुंचे. ट्रंप और उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग-उन ने रविवार को असैन्यकृत क्षेत्र (डीएमजेड) के सीमावर्ती गांव पनमुनजोम में मुलाकात की, जो उत्तर और दक्षिण कोरिया को अलग करता है. फरवरी में वियतनाम के हनोई में मुलाकात के बाद दोनों की यह पहली मुलाकात है. हनोई में दोनों की मुलाकात बेनतीजा रही थी.

पिछले साल जून में सिंगापुर में अपनी पहली ऐतिहासिक बैठक के दौरान ट्रंप और किम पहली बार आमने-सामने आए थे. दक्षिण कोरिया की दो दिवसीय यात्रा पर आए ट्रंप ने बैठक के बाद मीडिया से कहा कि 'दोनों कोरियाई देशों को बांटने वाली रेखा को पार करना उनके लिए सम्मान की बात है.' जबकि किम ने इसे 'एक ऐतिहासिक क्षण' के तौर पर माना.

ट्रंप ने किम को अमेरिका आने का निमंत्रण भी दिया लेकिन फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि किम ने इसे स्वीकार किया है या नहीं. अगर किम इसे स्वीकार कर लेते हैं तो यह पहली बार होगा जब कोई उत्तर कोरियाई नेता अमेरिका का दौरा करेगा.