close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ईरान के सर्वोच्च नेता ने कहा- उनका देश अमेरिका के दबाव और अपमान के आगे नहीं झुकेगा

खामनेई के दफ्तर ने उनके हवाले से कहा, ‘‘ दुनिया का सबसे दुष्ट अमेरिकी शासन रहमदिल ईरानी राष्ट्र पर इल्ज़ाम लगाता है और अपमानित करता है जो खुद जंगों, संघर्ष और लूटपाट करने का स्रोत है.’’ उन्होंने कहा कि ईरानी लोग ऐसे अपमानों के आगे झुकने वाला नहीं है.

ईरान के सर्वोच्च नेता ने कहा- उनका देश अमेरिका के दबाव और अपमान के आगे नहीं झुकेगा
फोटो साभारः Reuters

तेहरान: ईरान के सर्वोच्च नेता आयतुल्लाह अली खामनेई ने बुधवार को कहा कि उनका देश अमेरिका के दबाव और अपमान के आगे नहीं झुकेगा. तेहरान में लोगों को संबोधित करते हुए खामनेई ने कहा, ‘‘ ईरानी लोग गरिमा, स्वतंत्रता और प्रगति चाहते हैं. इसलिए क्रूर दुश्मनों के दबाव से ईरानियों को फर्क नहीं पड़ता है.’’ खामनेई के दफ्तर ने उनके हवाले से कहा, ‘‘ दुनिया का सबसे दुष्ट अमेरिकी शासन रहमदिल ईरानी राष्ट्र पर इल्ज़ाम लगाता है और अपमानित करता है जो खुद जंगों, संघर्ष और लूटपाट करने का स्रोत है.’’ उन्होंने कहा कि ईरानी लोग ऐसे अपमानों के आगे झुकने वाला नहीं है.

ईरान ने पिछले हफ्ते अमेरिका के ड्रोन को मार गिराया था जिसके बाद से दोनों मुल्कों में ज़ाबानी जंग चल रही है. इस हफ्ते अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खामनेई और अन्य ईरानी अधिकारियों पर प्रतिबंधों की घोषणा की.

हम ईरान को परमाणु हथियार कभी भी हासिल नहीं करने देंगे: ट्रंप
इससे पहले ट्रंप ने अपने ओवल दफ्तर में पत्रकारों के साथ संक्षिप्त बातचीत में कहा था कि, ‘हम ईरान या किसी भी देश के साथ संघर्ष नहीं चाहते हैं.’ उन्होंने कहा, ‘मैं आपसे यह कह सकता हूं कि हम ईरान को परमाणु हथियार कभी भी हासिल नहीं करने देंगे.’

ट्रंप ने कहा कि उन्होंने जिस कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए हैं, वो ईरान पर कड़े प्रतिबंध लगाएगा और ईरान के सर्वोच्च नेता तथा अन्य अधिकारियों को बैंकिग सुविधा के लाभ लेने से रोकेगा. उन्होंने वित्त मंत्री स्टीवन म्नूचिन की मौजूदगी में आदेश पर हस्ताक्षर किए. डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, ‘मेरे ख्याल से हमने बहुत संयम दिखाया है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम भविष्य में भी सयंम दिखांएगे.’

उन्होंने कहा, ‘हम तेहरान पर दबाव बढ़ाना जारी रखेंगे.’ यह पूछे जाने पर कि अमेरिकी ड्रोन पर ईरानी हमले के जवाब में ये प्रतिबंध लगाए गए हैं तो राष्ट्रपति ने कहा कि आप संभवत: इसे उसमें शामिल कर सकते हैं, लेकिन होने जा रहा था. उन्होंने कहा, ‘मैं न्यूयॉर्क में रहने वाले कई ईरानी लोगों को जानता हूं. वे शानदार लोग हैं.’

इनपुट भाषा से भी