अमेरिका में यहूदी विरोधी हमला, धार्मिक जलसे के दौरान बनाया गया निशाना, ट्रंप ने कही ये बात
Advertisement

अमेरिका में यहूदी विरोधी हमला, धार्मिक जलसे के दौरान बनाया गया निशाना, ट्रंप ने कही ये बात

उत्तरी न्यूयॉर्क के यहूदी बहुल इलाके के मोंसी में हमला शनिवार रात करीब 10 बजे हुआ था. 

फाइल फोटो

न्यूयॉर्क: न्यूयॉर्क (Ney York) के रब्बी में हनुक्का उत्सव (Hanukkah Celebration) के दौरान शनिवार रात को एक घर में चाकू से किए गए हमले में पांच लोग घायल हो गए. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (US President Donald Trump) ने इस घटना की कड़ी आलोचना की है. उन्होंने कहा हनुक्का के दौरान मोंसी में यहूदी-विरोधी हमला डरावना है. 

उन्होंने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर कहा, ''हनुक्का के सातवें दिन न्यूयॉर्क के मोंसी में सेमिटिक विरोधी हमला डरावना है. हम सभी को यहूदी-विरोधीवाद की बुराई को खत्म करने, उससे लड़ने, संघर्ष करने के लिए एकजुट होना चाहिए. मेलानिया और मैं पीड़ितों के शीघ्र और पूर्ण स्वस्थ होने की कामना करते हैं.'' 

गौरतलब है कि उत्तरी न्यूयॉर्क के यहूदी बहुल इलाके के मोंसी में हमला शनिवार रात करीब 10 बजे हुआ था. ऑर्थोडॉक्स यहूदी पब्लिक अफेयर्स काउंसिल ने ट्विटर पर कहा कि हमलावर को पुलिस ने पकड़ लिया है. उसने धार्मिक उत्सव के दौरान घर में घुसकर पांच लोगों पर चाकू से हमला किया, जिसमें एक महिला पीड़िता भी शामिल हैं. उस पर छह बार चाकू से हमला हुआ.

जानकारी के अनुसार, हमलावर का कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है. उसने इस घटना को अकेले ही अंजाम दिया. ऑर्थोडॉक्स यहूदी पब्लिक अफेयर्स काउंसिल ने कहा कि दो पीड़ितों की हालत बेहद नाजुक है. 

उस व्यक्ति ने ऐसा क्यों किया, इस बात का पता अभी तक नहीं चल पाया है. हालांकि, न्यूयॉर्क पुलिस विभाग की काउंटर-टेररिज्म यूनिट ने कहा है कि वह मामले की जांच कर रहे हैं.

स्थानीय मीडिया के अनुसार, घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी जिस वाहन में बैठकर फरार हुआ था, गवाहों ने उसका नंबर नोट कर लिया, इसीलिए पुलिस उसे गिरफ्तार कर पाई.

न्यूयॉर्क स्टेट अटॉर्नी जनरल लेटिटिया जेम्स ने कहा कि उनका विभाग इस घटना की विस्तार से जांच करेगा और घृणा अपराधों के प्रति 'जीरो टॉलरेंस' की नीति अपनाई जाएगी.

(इनपुट- IANS से भी)

Trending news