आखिरकार पता चल गया उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग का ठिकाना

उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन (Kim Jong Un) को लेकर लगाये जा रहे कयासों के बीच कुछ सैटेलाइट तस्वीरें सामने आई हैं, जिनमें उनकी लोकेशन के बारे में दावा किया गया है.

आखिरकार पता चल गया उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग का ठिकाना
फाइल फोटो

वाशिंगटन: उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन (Kim Jong Un) को लेकर लगाये जा रहे कयासों के बीच कुछ सैटेलाइट तस्वीरें सामने आई हैं, जिनमें उनकी लोकेशन के बारे में दावा किया गया है. तस्वीरों से पता चलता है कि किम जोंग का लग्जरी यॉट उनके पसंदीदा विला के पास है. इसलिए यह माना जा रहा है कि किम उत्‍तर कोरिया में वॉनसन के आसपास किसी तटीय रिसॉर्ट में रह रहे हैं. 

गौरतलब है कि तानाशाह किम जोंग को लेकर कयासों का दौर उस समय शुरू हुआ था, जब वह 15 अप्रैल को अपने दिवंगत दादा और उत्तर कोरिया के संस्थापक किम सुंग (Kim Il Sung) के जन्मदिवस  समारोह में शरीक नहीं हुए थे. इसके बाद से लगातार उनके स्वास्थ्य और ठिकाने को लेकर अंतर्राष्ट्रीय मीडिया में खबरें आ रही हैं. उत्तर कोरिया की निगरानी वेबसाइट एनके प्रो (NK PRO) ने बताया कि कमर्शियल सैटेलाइट इमेजरी से पता चलता है किम जोंग द्वारा अक्सर इस्तेमाल किये जाने वाले यॉट में हलचल देखी गई है, जिससे यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि किम या उनके परिजन वॉनसन क्षेत्र में कहीं हैं.

इससे पहले अमेरिका स्थित नॉर्थ कोरिया मॉनिटरिंग प्रोजेक्ट ‘38 नॉर्थ’ की रिपोर्ट में यह दावा किया गया था कि किम जोंग की स्पेशल ट्रेन वॉनसन के एक स्टेशन पर खड़ी हुई है. सियोल के कोरिया इंस्टीट्यूट फॉर नेशनल यूनीफिकेशन के चाओ हान-बम (Cho Han-bum) के मुताबिक, वॉनसन वह स्थान है, जहां आपात स्थिति के लिए रेल, मनोरंजक स्थल और कार्यालय सुविधाएं उपलब्ध हैं. वॉनसन किम के कुछ नए सैन्य अभ्यासों और मिसाइल परीक्षणों का केंद्र भी रहा है, जिसे उन्होंने अमेरिका और दक्षिण कोरिया के साथ परमाणु कार्यक्रम पर वार्ता के आगे न बढ़ने से हताशा के बीच फिर से शुरू किया था. 

वॉनसन क्षेत्र को किम वंश के लिए प्रतीकात्मक शक्ति के तौर पर भी देखा जाता है. क्योंकि उत्तर कोरिया के संस्थापक किम सुंग सोवियत सैनिकों के साथ देश पर कब्जा करने के लिए पहले यही उतरे थे. इससे पहले, दक्षिण कोरिया और संयुक्त राज्य अमेरिका के अधिकारियों ने किम के वॉनसन में होने की संभावना जताई थी. उनका कहना था कि किम कोरोना वायरस के प्रकोप से बचने के लिए वहां हो सकते हैं. कई मीडिया रिपोर्ट में भी आशंका जताई गई थी कि किम शायद किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं और इलाज करा रहे हैं. हालांकि उत्तर कोरिया इन खबरों का खंडन करता रहा है.