अंटार्कटिक में बर्फ की चादर के नीचे सूक्ष्मजीवों का पता लगाएंगे वैज्ञानिक

अमेरिका की मोनटाना स्टेट यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिक जॉन प्रिस्कू के नेतृत्व में 45 वैज्ञानिकों, ड्रिलर और सहायक कर्मियों की टीम दक्षिणी ध्रुव से करीब 596 किलोमीटर दूर स्थित ‘मर्सर सबग्लेशियल लेक’ में बर्फ की चादर में चार हजार फुट तक ड्रिल करेगी.

अंटार्कटिक में बर्फ की चादर के नीचे सूक्ष्मजीवों का पता लगाएंगे वैज्ञानिक
फाइल फोटो

वाशिंगटन: वैज्ञानिकों की एक अंतरराष्ट्रीय टीम अंटार्कटिक में झील में बर्फ की चादर के नीचे सूक्ष्मजीवों का पता लगाएगी. इस झील के नीचे के क्षेत्र का अभी तक अन्वेषण नहीं किया गया है. अमेरिका की मोनटाना स्टेट यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिक जॉन प्रिस्कू के नेतृत्व में 45 वैज्ञानिकों, ड्रिलर और सहायक कर्मियों की टीम दक्षिणी ध्रुव से करीब 596 किलोमीटर दूर स्थित ‘मर्सर सबग्लेशियल लेक’ में बर्फ की चादर में चार हजार फुट तक ड्रिल करेगी.

झील करीब 96 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैली हुई है. इस झील की खोज करीब एक दशक पहले उपग्रह की तस्वीरों से हुई थी लेकिन अभी तक इसका अन्वेषण नहीं किया गया है. 

इस अभियान का नाम ‘एसएएलएसए’ (सबग्लेशियल अंटार्कटिक लेक्स साइंटिफिक एक्सेस) है. उम्मीद की जा रही है कि यह अभियान इस पर प्रकाश डालेगा कि ऐसे दूरदराज के क्षेत्रों में किस तरह का जीवन जीवित रह सकता है. यह पृथ्वी और मंगल ग्रह के अंदर या बृहस्पति और शनि के बर्फ से ढके चंद्रमाओं पर प्रवासों की तुलना में सहायक होगा.