अमेरिका ने पांच रूसी नागरिकों पर लगाया प्रतिबंध, लगा है ये संगीन आरोप

रूस में मानवाधिकार को लेकर एक कानून के तहत उठाए गए कदमों पर विदेश मंत्रालय ने कांग्रेस को सौंपी गई एक वार्षिक रिपोर्ट में पांच लोगों और एक संस्था के खिलाफ उठाए कदमों की जानकारी दी.

अमेरिका ने पांच रूसी नागरिकों पर लगाया प्रतिबंध, लगा है ये संगीन आरोप
रूस के राष्ट्रपति पुतिन का फाइल फोटो...

वॉशिंगटन: अमेरिका ने रूस में विपक्ष के एक नेता की हत्या समेत उत्पीड़न के मामलों को लेकर पांच रूसी नागरिकों पर प्रतिबंध लगाए हैं. यह प्रतिबंध ऐसे समय में लगाए गए हैं, जब हाल में रूस और अमेरिका के बीच शीर्ष स्तर की वार्ता के बाद दोनों देशों के बीच तनाव कम होता प्रतीत हो रहा था.

क्या है पूरा मामला
रूस में मानवाधिकार को लेकर एक कानून के तहत उठाए गए कदमों पर विदेश मंत्रालय ने कांग्रेस को सौंपी गई एक वार्षिक रिपोर्ट में पांच लोगों और एक संस्था के खिलाफ उठाए कदमों की जानकारी दी. इस कानून का नाम भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने वाले रूसी लेखाकार सर्गेई मैग्नित्स्की के नाम पर रखा गया है, जिनकी 2009 में हिरासत में मौत हो गई थी. इस कानून के तहत अमेरिका कालीसूची में डाले गए लोगों की संपत्ति पर रोक और अमेरिका आने पर प्रतिबंध लगाता है. 

गृह मंत्रालय के अधिकारी रसलेन गेरेमेयेव भी शामिल
काली सूची में डाले गए पांच लोगों में रूस के चेचन्या के उत्तरी कॉकेशस में गृह मंत्रालय के अधिकारी रसलेन गेरेमेयेव भी शामिल हैं. उन पर रूस के पूर्व उप प्रधानमंत्री बोरिस नेमत्सोव की हत्या में शामिल होने का आरोप है. अमेरिका ने दो रूसी जांचकर्ताओं एलेना अनातोलीवना त्रिकुल्या और गेनेडी व्याचेस्लावोविच कारलोव पर भी मैग्नित्स्की की हिरासत और मौत के मामले में कथित रूप से तथ्य छिपाने के मामले में प्रतिबंध लगाए गए हैं.

इसके अलावा चेचेन्या में तेरेक स्पेशल रैपिड रिस्पॉन्स टीम और उसके कमांडर अबुजायेद विस्मुरादोव पर भी प्रतिबंध लगाए गए है. उल्लेखनीय है कि दो दिन पहले ही विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने रूस के सोची में पुतिन से मुलाकात की थी.

(इनपुटः भाषा)