close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: कल तक फूटी आँख नहीं सुहाते, अब उत्तर कोरिया पहुंचकर किम जोंग से मिले डोनाल्ड ट्रंप

व्हाइट हाउस के मुताबिक अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) रविवार को कोरियाई प्रायद्वीप को विभाजित करने वाले असैन्यकृत क्षेत्र पहुंचे, यहीं उन्होंने उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन (Kim Jong-un) से मुलाकात की.

VIDEO: कल तक फूटी आँख नहीं सुहाते, अब उत्तर कोरिया पहुंचकर किम जोंग से मिले डोनाल्ड ट्रंप
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने उत्तर कोरिया की जमीन पर रखा कदमब. तस्वीर साभार- ANI

पनमुनजोम: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) ने उत्तर कोरिया की जमीन पर पहली बार कदम रखा. पूर्व दुश्मन देश की धरती पर पहुंचने वाले वह पहले मौजूदा अमेरिकी राष्ट्रपति हैं. इस ऐतिहासिक क्षण में ट्रम्प ने असैन्यकृत क्षेत्र में उत्तर और दक्षिण कोरिया को बांटने वाली कंक्रीट की सीमा को पार कर उत्तर कोरिया के क्षेत्र में कदम रखा. व्हाइट हाउस के मुताबिक अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) रविवार को कोरियाई प्रायद्वीप को विभाजित करने वाले असैन्यकृत क्षेत्र पहुंचे, यहीं उन्होंने उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन (Kim Jong-un) से मुलाकात की.

ट्रम्प ने शनिवार को ही इस दौरे की जानकारी ट्विटर पर दी थी. अमेरिकी राष्ट्रपति और किम कोरियाई प्रायद्वीप में परमाणु निरस्त्रीकरण के मामले को लेकर दो बार शिखर वार्ता कर चुके हैं. हनोई में फरवरी में बेनतीजा रही शिखर वार्ता के बाद दोनों पहली बार मिले. पहली बार दोनों पिछले साल सिंगापुर में मिले थे.

ट्रंप ने किम से मीटिंग की पुष्टि की
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) ने कोरियाई प्रायद्वीप को बांटने वाले असैन्यकृत क्षेत्र में रविवार को उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन (Kim Jong-un) से ‘हाथ मिलाने के लिए’ मुलाकात की पुष्टि की. ट्रम्प ने दोनों नेताओं के बीच संबंधों की सराहना करते हुए कहा, ‘हम डीएमजेड सीमा पर जा रहे हैं और मैं वहां किम से मुलाकात करूंगा. मैं इसको लेकर उत्साहित हूं. हमने अच्छे संबंध विकसित किए हैं.’

वहीं कोरियाई प्रायद्वीप में कायम तनाव को लेकर वह जल्दबाजी में नहीं है. ट्रम्प ने कहा कि यह बैठक बेहद छोटी होगी. हनोई में फरवरी में बेनतीजा रही शिखर वार्ता की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा, ‘बस हाथ मिलाकर एक दूसरे का अभिवादन करेंगे क्योंकि हम वियतनाम के बाद से मिले नहीं हैं.’ ट्रम्प ने कहा, ‘यह केवल एक कदम है और संभवत: सही दिशा में उठाया गया कदम है.’

दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून जेई-इन भी डीएमजेड जाएंगे लेकिन सबका ध्यान ट्रम्प और किम की मुलाकात पर ही रहेगा. मून ने कहा, ‘मुझे लगता है कि अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच तीसरी शिखर वार्ता आज की बैठक और बातचीत पर निर्भर करती है.’ मून ने कहा, ‘तनाव की बजाय शांति कायम करने के लिए अधिक हिम्मत चाहिए होती है.’ उन्होंने कहा, ‘निरंतर संवाद बहुत व्यावहारिक है और कोरियाई प्रायद्वीप पर शांति लाने का एकमात्र तरीका है.'