भारत में लॉकडाउन की "अग्निपरीक्षा"! अबतक 8 की मौत, 420 से ज्यादा मामले

कोरोना वायरस से देश में अबतक 8 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 421 हो गई है. हालात को देखते हुए प्रशासन ने अभूतपूर्व कदम उठाते हुए सभी यात्री ट्रेनों, अंतरराज्यीय बस सेवाओं और मेट्रो को 31 मार्च तक के लिए स्थगित कर दिया गया. लेकिन देश के कई शहरों में लॉकडाइन के बावजूद लोग घर से बाहर निकल रहे हैं.

भारत में लॉकडाउन की "अग्निपरीक्षा"! अबतक 8 की मौत, 420 से ज्यादा मामले

नई दिल्ली: कोरोना का कहर भारत पर लगातार बढ़ता ही जा रहा है. देश में आठवीं मौत हो गई है, ये मौत पश्चिम बंगाल के दमदम में AMRI अस्पताल में हुई. मरीजों की संख्या 420 से ज्यादा हो गई है. दुनिया के दो देशों इटली और चीन में कोरोना का कहर कुछ यूं बरपा कि हर कोई हाय-तौबा करने लगा. दोनों ने कोरोना वायरस की चुनौतियों को अलग अलग तरीके से हैंडल किया. इटली ने कोरोना वायरस को गंभीरता को नहीं लिया परिणाम ये हुआ कि यहां कि 4 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो गई. वहीं दूसरी तरफ चीन ने कोरोना से युद्ध के स्तर पर लड़ाई की. नतीजा ये हुआ कि आज चीन इस खतरे से उबर रहा है.

इटली ने लापरवाही दिखाई, हजारों नागरिकों की जान गंवाई

कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में दोनों देशों ने अपने अपने शहरों में लॉकडाउन किया. लेकिन इटली ने इसको गंभीरता से नहीं लिया नतीजा हजारों लोगों की मौत हुई. आज भारत भी लॉकडाउन की स्थिति में पहुंच गया है और कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई निर्णायक दौर में पहुंच गई है.

चीन जैसी सख्ती दिखाएगा, भारत कोरोना से जीत जाएगा 

देशभर में कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे को देखते हुए दिल्ली समेत 9 राज्यों को पूरी तरह से लॉकडाउन कर दिया गया है लोगों को घरों  में रहने का निर्देश दिया  जा रहा है. लेकिन वो सरकार के निर्देशों को हल्के में ले रहे हैं.

दिल्ली और मुंबई में लॉकडाउन के आदेश के बाद भी लोग सड़कों पर उतर रहे हैं. लॉकडाउन के कारण दिल्ली के बॉडर को बंद किया गया था. लेकिन सुबह में आसपास के शहरों के इतने लोग यहां पहुंच गए कि यहां भयंकर जाम लग गया.

दिल्ली बॉर्डर पर गाड़ियों की लंबी कतारें लगी दिखीं, वहीं पश्चिम बंगाल के 24 परगना  में लोग लॉकडाउन से अनजान है. उन्हें पता ही नहीं कि बंगाल में लॉकडाउन है. वहीं बिहार के मुज्जफरपुर में सड़कों पर गाड़ियों की आवाजाही जारी है. वहीं वाराणसी में लॉकडाउन का असर नहीं दिखाई दे रहा है लोग लॉकडाउन में हलके में ले रहे हैं जबकि कानपुर में लॉकडाउन के बीच जरूरी सामान खरीदने को लेकर होड़ मची हुई है.

लॉकडाउन में रहेंगे, कोरोना को 'लॉक' करेंगे

कोरोना के प्रति लोगों की लापरवाही को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि "लॉकडाउन को अभी भी कई लोग गंभीरता से नहीं ले रहे हैं. कृपया करके अपने आप को बचाएं, अपने परिवार को बचाएं, निर्देशों का गंभीरता से पालन करें. राज्य सरकारों से मेरा अनुरोध है कि वो नियमों और कानूनों का पालन करवाएं."

इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस: जनता कर्फ्यू की सफलता पर पीएम मोदी अपनी मां को किया याद

केंद्र सरकार ने भी राज्य सरकारों को इस संबंध में कार्रवाई करने को कहा है. लेकिन इन सब अनुरोधों के बीच लोगों को ये समझने की जरुरत है कि लॉकडाउन से उनकी और उनके परिवार की ही जिंदगी बचाने के लिए कवायद की जा रही है. ऐसे में उनका फर्ज बनता है कि वो न केवल लॉकडाउन में सहयोग करें बल्कि औरों भी इसके लिए प्रेरित करें.

इसे भी पढ़ें: मोदी ने लोगों से लॉकडाउन को गंभीरता से लेने का किया आग्रह

इसे भी पढ़ें: कोरोना से युद्ध के लिए जीत का माहौल बना दिया प्रधानमंत्री ने