मेट्रो का सहारा लेकर प्रदर्शन करने जा रहे थे लोग! 17 स्टेशनों के गेट बंद

नागरिकता संशोधन कानून के नाम पर बवाल काटने वालों की वजह से दिल्ली मेट्रो पूरी तरह से प्रभावित हो गई है. दिल्ली मेट्रो रेल निगम ने प्रदर्शनकारियों की आवाजाही के चलते 17 मेट्रो स्टेशन के एंट्री और एग्जिट गेट बंद कर दिये हैं.

मेट्रो का सहारा लेकर प्रदर्शन करने जा रहे थे लोग! 17 स्टेशनों के गेट बंद

नई दिल्ली: दिल्ली मेट्रो रेल निगम (DMRC) ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में प्रदर्शनों में भाग लेने जा रहे लोगों की आवाजाही नियंत्रित करने के लिहाज से कुल 17 मेट्रों स्टेशनों का एंट्री और एग्जिट गेट बंद करने का किया है.

इन प्रमुख स्टेशनों के गेट बंद

राजीव चौक सहित कुल 17 स्टेशनों के प्रवेश और निकास गेट शुक्रवार को बंद कर दिए गए हैं. डीएमआरसी ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी है. कश्मीरी गेट, केन्द्रीय सचिवालय, मंडी हाउस और राजीव चौक मेट्रो स्टेशनों के प्रवेश और निकास द्वार बंद किए गए हैं. हालांकि इन स्टेशनों पर यात्रियों को ट्रेन बदलने की सुविधा उपलब्ध होगी.

डीएमआरसी ने ट्वीट किया है कि कश्मीरी गेट मेट्रो स्टेशन के तीन और चार नंबर गेट खोल दिए गए हैं. 

ताजा अपडेट के मुताबिक चांदनी चौक के भी मेट्रो स्टेशन का एंट्री और एग्जिट गेट बंद किया गया है. साथ ही ये जानकारी दी है कि यहां कोई ट्रेन नहीं रुकेगी.

इसके अलावा, जनपथ, प्रगति मैदान और खान मार्केट के भी प्रवेश और निकास द्वार बंद कर दिए गए हैं. डीएमआरसी ने बताया कि जौहरी एन्क्लेव, शिव विहार और दिलशाद गार्डन मेट्रो स्टेशन भी बंद कर दिए गए हैं.

इसे भी पढ़ें: अब देश को ज़रूरत है बहुत सारी जेलों की

डीएमआरसी ने ट्वीट किया है कि '285 मेट्रो स्टेशनों में से वायलेट लाइन पर चावड़ी बाजार, लाल किला, जामा मस्जिद और दिल्ली गेट, पिंक लाइन पर जाफराबाद और मौजपुर. बाबरपुर तथा मजेंटा लाइन पर जामिया मिल्लिया इस्लामिया स्टेशनों को सुरक्षा एजेंसियों के निर्देश पर बंद कर दिया गया है.' कुल 17 मेट्रो स्टेशनों के प्रवेश और निकास द्वार बंद किए गए हैं.

इसे भी पढ़ें: यूपी में अफवाह की आग पर शिकंजा कसने के लिए इंटरनेट सेवा बंद