close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

इस रंग की कार में लगती है ज्यादा गर्मी, माइलेज पर भी होता है बहुत असर

अगर आपकी कार काले या डार्क कलर में है तो इसकी बॉडी ज्यादा गर्म होगी. काले और डार्क कलर की कारें केवल 5 फीसदी सूर्य की रोशनी रिफ्लेक्ट कर पाती हैं. सफेद और हल्की रंग की कारें 60 फीसदी सूर्य की किरणों को रिफ्लेक्ट करती हैं.

इस रंग की कार में लगती है ज्यादा गर्मी, माइलेज पर भी होता है बहुत असर
एसी जितना तेज चलेगा, माइलेज उतनी कम होगी. (फाइल)

नई दिल्ली: पारा अपने चरम पर है. तापमान अमूमन 40 डिग्री के पार ही रहता है. ऐसे में घर से बाहर निकलना बहुत मुश्किल होता है. जिन लोगों के पास एसी कार है, उन्हें थोड़ी राहत जरूर मिलती है. लेकिन, तापमान का असर इतना ज्यादा होता है कि घर से निकलने पर एसी कार में घुसने के बावजूद आपको थोड़ा इंतजार करना पड़ता है कि कार के भीतर ठंड का अहसास हो. क्या आपको पता है कि आपके कार के रंग से भी गर्मी का असर कम और ज्यादा होता है.

साइंस की इतनी समझ हर किसी को है कि सफेद रंग सूर्य के प्रकाश को सबसे ज्यादा रिफ्लेक्ट करता है, जबकि काला रंग सूर्य प्रकाश को सबसे ज्यादा अवशोषित करता है. इसलिए अगर आपकी कार सफेद, सिल्वर या हल्के रंगों की है तो यह प्रकाश को कम अवशोषित करेगी और ज्यादा रिफ्लेक्ट करेगी. इससे कार कम गर्म होगी.

वही, अगर आपकी कार काले या डार्क कलर में है तो इसकी बॉडी ज्यादा गर्म होगी. काले और डार्क कलर की कारें केवल 5 फीसदी सूर्य की रोशनी रिफ्लेक्ट कर पाती हैं. सफेद और हल्की रंग की कारें 60 फीसदी सूर्य की किरणों को रिफ्लेक्ट करती हैं.

6 जून को लॉन्च होगी टोयोटा की नई कार GLANZA, मारुति की इस कार को देगी टक्कर

जब आप कार की एसी चलाते हैं तो इसका असर माइलेज पर भी पड़ता है. इसलिए, ठंड के मौसम में गर्मी के मुकाबले बेहतर माइलेज मिलता है. अगर आपकी कार काले या डार्क कलर की है तो एसी और तेज चलाएंगे, जिससे और कम माइलेज मिलेगा. ठीक, उसी तरह आपकी कार अगर हल्के और सफेद रंगों में है तो मुकाबले में बेहतर माइलेज मिलेगा.