close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अब ट्रंप ने भारत को धमकी, कहा - मेरे फोन करने से पहले US व्हिस्की पर आयात शुल्क घटा ले

ट्रंप ने कहा कि इससे पहले भारत में हार्ले-डेविडसन मोटरसाइकिल पर 100% आयात शुल्क लगता था लेकिन दो मिनट की बातचीत के बाद भारत ने इसे घटाकर 50 प्रतिशत कर दिया.

अब ट्रंप ने भारत को धमकी, कहा - मेरे फोन करने से पहले US व्हिस्की पर आयात शुल्क घटा ले
ट्रंप ने कहा कि कोई भी देश आपसी व्यापार में अमेरिका को नुकसान नहीं पहुंचा सकता.

वॉशिंगटन: अमेरिकी और चीन के बीच ट्रेड वार किसी से छुपा नहीं लेकिन गुरुवार को व्हाइट हाउस के एक कार्यक्रम में उन्होंने भारत को धमकी दे डाली. ट्रंप ने कहा कि कोई भी देश आपसी व्यापार में अमेरिका को नुकसान नहीं पहुंचा सकता. अगर ऐसा हुआ तो अमेरिका उस देश के साथ व्यापार को सीमित करेगा. ट्रंप ने इसके संबंध में एक उदाहरण देते हुए बताया कि कैसे उन्होंने भारत को अपनी बात मनवाने के लिए मजबूर कर दिया था. 

ट्रंप का कहना है कि उनकी नजर भारत में अमेरिकी व्हिस्की पर लगने वाले 150 प्रतिशत के ‘ऊंचे’ आयात शुल्क पर है. उन्होंने कहा कि इससे पहले भारत में हार्ले-डेविडसन मोटरसाइकिल पर 100 प्रतिशत आयात शुल्क लगता था लेकिन उनकी दो मिनट की बातचीत के बाद भारत ने इसे घटाकर 50 प्रतिशत कर दिया जो ‘एक उचित समझौता’ है.

ट्रंप ने हार्ले-डेविडसन के आयात पर भारत में लगाए जाने वाले ऊंचे आयात शुल्क को ‘अनुचित’ बताया. उन्होंने अमेरिका में आयात होने वाली भारतीय मोटरसाइकिल पर शुल्क बढ़ाने की धमकी दी थी जिसके बाद पिछले साल फरवरी में भारत ने अमेरिका से आयात की जाने वाली हार्ले-डेविडसन मोटरसाइकिल पर आयात शुल्क को 50 प्रतिशत कर दिया था.

गुरुवार को पारस्परिक व्यापार अधिनियम पर व्हाइट हाउस में आयोजित एक कार्यक्रम में ट्रंप ने एक ग्रीन बोर्ड पर विभिन्न देशों के साथ किए जाने वाले व्यापार में गैर-पारस्परिक शुल्कों का उदाहरण पेश किया. ट्रंप ने कहा, "मोटरसाइकिल के उदाहरण को ही देखें, भारत में इस पर आयात शुल्क 100 प्रतिशत था. मात्र दो मिनट की बातचीत में मैंने उनसे इसे 50 प्रतिशत करवा लिया. यह अभी भी 50 प्रतिशत है जबकि अमेरिका में आयात की जाने वाली मोटरसाइकिल पर मात्र 2.4 प्रतिशत शुल्क लगता है. लेकिन फिर भी यह एक उचित समझौता है." 

हालांकि ट्रंप ने भारत द्वारा अमेरिकी शराब पर लगाए जाने वाले ऊंचे शुल्क पर नाराजगी जताई. उन्होंने कहा, ‘‘ भारत में बहुत ऊंचा शुल्क है. वे बहुत ज्यादा शुल्क लगाते हें. आप व्हिस्की को ही देख लें, भारत उस पर 150 प्रतिशत शुल्क लगाता है और हमें कुछ नहीं मिलता." व्हाइट हाउस में सांसदों के साथ एक बातचीत के दौरान ट्रंप ने कहा कि पारस्परिक व्यापार कानून अमेरिकी कामगारों को अन्य देशों के साथ एक समान और उचित स्तर पर व्यापार की सुविधा देगा.