close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मोदी सरकार के लिए खुशखबरी, विदेशी पूंजी भंडार 1.26 अरब डॉलर बढ़कर इतना पहुंचा

विदेशी मुद्रा भंडार को डॉलर में व्यक्त किया जाता है जो इंटरनेशनल मार्केट में  करेंसी के वैल्यू के उतार-चढ़ाव से सीधे प्रभावित होता है.

मोदी सरकार के लिए खुशखबरी, विदेशी पूंजी भंडार 1.26 अरब डॉलर बढ़कर इतना पहुंचा
फाइल फोटो.

नई दिल्ली: देश का विदेशी पूंजी भंडार 18 जनवरी को समाप्त सप्ताह में 1.26 अरब डॉलर बढ़कर 397.35 अरब डॉलर हो गया, जो 27,988.0 अरब रुपये के बराबर है. भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की ओर से जारी साप्ताहिक आंकड़े के अनुसार, विदेशी पूंजी भंडार का सबसे बड़ा घटक विदेशी मुद्रा भंडार आलोच्य सप्ताह में 1.08 अरब डॉलर बढ़ कर 371.37 अरब डॉलर हो गया, जो 26,172.5 अरब रुपये के बराबर है.

बैंक के मुताबिक, विदेशी मुद्रा भंडार को डॉलर में व्यक्त किया जाता है और इस पर भंडार में मौजूद पाउंड, स्टर्लिंग, येन जैसी अंतर्राष्ट्रीय मुद्राओं के मूल्यों में होने वाले उतार-चढ़ाव का सीधा असर पड़ता है. आलोच्य अवधि में देश का स्वर्ण भंडार 21.84 अरब डॉलर रहा, जो 1,524.6 अरब रुपये के बराबर है.

विदेशी निवेशकों ने 2018 में भारतीय बाजार से निकाले 83,000 करोड़ रुपये

इस दौरान, देश के विशेष निकासी अधिकार (एसडीआर) का मूल्य 90 लाख डॉलर बढ़कर 1.47 अरब डॉलर हो गया, जो 103.7 अरब रुपये के बराबर है. अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) में देश के मौजूदा भंडार का मूल्य 1.63 करोड़ डॉलर बढ़ कर 2.66 अरब डॉलर दर्ज किया गया, जो 187.2 अरब रुपये के बराबर है.

(इनपुट-आईएएनएस)