ईडी ने की मामा-भांजे की 12 लग्जरी कारों की नीलामी, इतने करोड़ में बिकी 12 गाड़ियां

पीएनबी घोटाले के आरोपी भगोड़ा हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की 12 लग्जरी कारों की नीलामी पूरी हो गई. सभी कारों की नीलामी गुरुवार को सरकारी कंपनी एमएसटीसी की वेबसाइट के माध्यम से की गई.

ईडी ने की मामा-भांजे की 12 लग्जरी कारों की नीलामी, इतने करोड़ में बिकी 12 गाड़ियां

नई दिल्ली : पीएनबी घोटाले के आरोपी भगोड़ा हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की 12 लग्जरी कारों की नीलामी पूरी हो गई. सभी कारों की नीलामी गुरुवार को सरकारी कंपनी एमएसटीसी की वेबसाइट के माध्यम से की गई. नीलाम हुई कारों में 10 नीरव मोदी ग्रुप की और 2 मेहुल चोकसी ग्रुप की हैं. इनमें एक रोल्स रॉयस और एक पोर्श कार भी शामिल है. इन कारों को बेचने से ईडी को 3.29 करोड़ रुपये मिले हैं. यह ई-ऑक्शन एमएसटीसी ने ईडी की तरफ से की. नीरव की एक टोयोटा कार का कोई खरीदार नहीं मिला.

बोली के लिए 5 प्रतिशत रकम जमा करनी थी जरूरी
सरकारी कंपनी एमएसटीसी की वेबसाइट पर बोली के लिए दी गई शर्तों के अनुसार बोलीदाता को नीलामी में हिस्सा लेने के लिए लिस्टेड शुरुआती कीमत का 5 प्रतिशत रकम एस्क्रो अकाउंट में जमा करानी थी. जिन कारों को नीलामी के लिए चुना गया उन सबकी शुरुआती कीमत करीब 3 करोड़ रुपये रखी गई थी. रोल्स रॉयस की शुरुआती कीमत 1.33 करोड़ और होंडा ब्रियो की 2.38 लाख रुपये थी.

नीरव मोदी, nirav modi, mehul choksi, nirav modi cars auction, pnb
नीलामी होने के बाद ईडी की तरफ से किया गया ट्वीट. (साभार @dir_ed)

54 करोड़ में बिकीं थी पेंटिंग
ईडी की एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कारों की सबसे ऊंची बोली का ड्यू डिलिजेंस पूरा करने के बाद इस बारे में आधिकारिक जानकारी दी जाएगी. इसमें अभी समय लग सकता है. बोली स्वीकार करने की सूचना ईडी पत्र के माध्यम से देगा. इससे पहले ईडी ने नीरव मोदी की जब्त की गई पेंटिंग्स की नीलामी की थी. इस नीलामी से 54 करोड़ रुपये मिले थे.

नीरव मोदी, nirav modi, mehul choksi, nirav modi cars auction, pnb
नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की इन्हीं कारों की नीलामी की गई.

दूसरी तरफ आपको बता दें कि नीरव मोदी को शुक्रवार को लंदन की अदालत में रिमांड पर सुनवाई के लिए जेल से वीडियोलिंक के जरिये पेश किया जाएगा. मोदी को मार्च में गिरफ्तार किया गया था, उसे लंदन की वैंड्सवर्थ जेल में रखा गया है. उसकी वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट की अदालत में वीडियोलिंक के जरिये पेशी की जाएगी. मोदी की जमानत अर्जी मुख्य मजिस्ट्रेट एम्मा अर्बुथनॉट ने 29 मार्च को इस आधार पर खारिज कर दी थी कि इस बात का काफी जोखिम हैं कि वह सरेंडर नहीं करेगा.