SBI ने करोड़ों ग्राहकों को भेजा मैसेज, कहा- हम पूछते नहीं, आप बताएं नहीं!

देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ग्राहकों को समय-समय पर सुरक्षा कारणों के मद्देजर अलर्ट करता रहता है. ऑनलाइन धोखाधड़ी के बढ़ते मामलों से ग्राहकों को बचाने के लिए बैंक की तरफ से बार-बार जागरूक किया जाता है.

SBI ने करोड़ों ग्राहकों को भेजा मैसेज, कहा- हम पूछते नहीं, आप बताएं नहीं!

नई दिल्ली : देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ग्राहकों को समय-समय पर सुरक्षा कारणों के मद्देजर अलर्ट करता रहता है. ऑनलाइन धोखाधड़ी के बढ़ते मामलों से ग्राहकों को बचाने के लिए बैंक की तरफ से बार-बार जागरूक किया जाता है. बैंक कभी अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट तो कभी मैसेज के माध्यम से करोड़ों ग्रहकों के लिए जागरूकता अभियान चलाता रहता है. इन सबके पीछे बैंक की यही कोशिश रहती है कि कस्टमर्स की खातों में रकम सुरक्षित रहे. हाल ही में फिर से एसबीआई ने ग्राहकों को टेक्सट मैसेज करना शुरू किया है और ट्वीट कर अलर्ट किया है.

गोपनीय जानकारी नहीं बताएं
बैंक ने ग्राहकों के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजे गए मैसेज में और ट्वीट कर कहा है बैंक अपने ग्राहक से गोपनीय जानकारी जैसे यूजर आईडी, पिन, पासवर्ड, सीवीवी, ओटीपी, यूपीआई पिन आदि नहीं पूछता है. इसलिए आप किसी को भी अपनी यह गोपनीय जानकारी नहीं बताएं. इसके अलावा भी बैंक अपने ग्राहकों को अन्य माध्यमों से सचेत करता रहता है.

बैंक ने ग्राहकों के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजे गए मैसेज में और ट्वीट कर कहा है बैंक अपने ग्राहक से गोपनीय जानकारी जैसे यूजर आईडी, पिन, पासवर्ड, सीवीवी, ओटीपी, यूपीआई पिन आदि नहीं पूछता है. इसलिए आप किसी को भी अपनी यह गोपनीय जानकारी नहीं बताएं. इसके अलावा भी बैंक अपने ग्राहकों को अन्य माध्यमों से सचेत करता रहता है.

ग्राहकों को भेजा ये SMS
इसके अलावा क्रेडिट कार्ड धारकों को बैंक की तरफ से भेजे कए मैसेज में कहा गया है कि ऐसे लोगों से सावधान रहे जो रिवॉर्ड प्वाइंट के नाम पर गिफ्ट वाउचर देने का प्रलोभन देते हैं. बैंक ने कहा कभी भी आपको अपने क्रेडिट कार्ड की डिटेल नहीं दें. साथ ही ओटीपी भी किसी से शेयर नहीं करें. बैंक की तरफ से इस मैसेज में एक वीडियो का लिंक पर भी शेयर किया गया है. वीडियो में बताया गया है कैसे जालसाज ठगी कर रहे हैं.

ऐसे करें बचाव
बैंक ने ग्राहकों से कहा कि कभी भी बैंक अधिकारी किसी भी एसएमएस, ई-मेल के जरिये या कॉल से आपके खाते की जानकारी नहीं मांगते. इसलिए हमेशा ऐसे एसएमएस या कॉल के प्रति जागरूक रहे. कोई भी आपको कॉल करके झांसे में लेकर गोपनीय जानकारी मांगकर आपके साथ ठगी कर सकता है. किसी भी प्रकार का फ्रॉड होने पर तुरंत पुलिस से संपर्क करें. साथ ही, बैंक के कस्टमर केयर पर कॉल कर अपडेट करें.