close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ICC World Cup 2019: शिखर धवन के ‘कवर’ बनकर इंग्लैंड जाएंगे ऋषभ पंत, लेकिन...

21 साल के ऋषभ पंत टीम में तभी चुने जाएंगे, जब शिखर धवन औपचारिक तौर पर इससे बाहर हो जाएंगे. 

ICC World Cup 2019: शिखर धवन के ‘कवर’ बनकर इंग्लैंड जाएंगे ऋषभ पंत, लेकिन...
ऋषभ पंत और शिखर धवन. (फोटो: IANS/ANI)

नई दिल्ली: युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत चोटिल ओपनर शिखर धवन (Shikhar Dhawan) के विकल्प के तौर इंग्लैंड जाएंगे. धवन हालांकि इंग्लैंड में ही रहेंगे और बीसीसीआई की मेडिकल टीम की देखरेख में रहेंगे. बीसीसीआई ने हालांकि ऋषभ पंत (Rishabh Pant) के नाम का औपचारिक ऐलान नहीं किया है. उसे उम्मीद है कि धवन दो से तीन सप्ताह के अंदर चोट से उबर जाएंगे और वर्ल्ड कप (ICC World Cup 2019) के अगले मैचों में उपलब्ध रहेंगे. पंत को पहले ही कह दिया गया है कि वे जल्दी से जल्दी इंग्लैंड जाने को तैयार रहें.  

क्रिकेट विश्व कप (ICC Cricket World Cup 2019) के लिए जब भारतीय टीम (Team India) चुनी गई थी तब पंत को चयनकर्ताओं ने नजरअंदाज किया था और दिनेश कार्तिक को चुना था. सूत्रों के मुताबिक पंत को अब बोर्ड द्वारा इंग्लैंड जाने के लिए तैयार रहने को कहा गया है. हालांकि 21 साल का यह खिलाड़ी शुरुआत में चयन के लिए उपलब्ध नहीं होगा. वे टीम में तभी चुने जाएंगे, जब धवन को बाहर हो जाएंगे. 

यह भी देखें: VIDEO: पाकिस्तान की छोटी सोच, F-16 गिराने वाले हमारे विंग कमांडर अभिनंदन का उड़ाया मजाक

शिखर धवन के अंगूठे में फ्रैक्चर है और इस कारण वह तीन सप्ताह के लिए मैदान से दूर हो सकते हैं. ऐसी आशंका जताई जा रही है कि वह न्यूजीलैंड और पाकिस्तान के साथ होने वाले दो मैचों में नहीं खेल सकेंगे. बीसीसीआई ने कहा है, ‘धवन इस समय बीसीसीआई की मेडिकल टीम की देखरेख में हैं. टीम प्रबंधन ने फैसला किया है कि धवन इंग्लैंड में ही रहेंगे और उनकी चोट पर नजर रखी जाएगी. धवन को बाएं हाथ की तर्जनी और अंगूठे के बीच में चोट है.’

धवन ने रविवार को ऑस्ट्रेलिया के साथ हुए विश्व कप मुकाबले में शानदार 117 रन बनाए थे और मैन ऑफ द मैच चुने गए थे. इसी मैच में बल्लेबाजी के दौरान नाथन कुल्टर नाइल की एक गेंद धवन के अंगूठे पर लग गई थी. अपनी पारी के बाद धवन ड्रेसिंग रूम में ही बैठे रहे और बर्फ से चोट की सेकाई करते रहे. वे फील्डिंग के लिए मैदान पर नहीं उतर सके थे. रवींद्र जडेजा ने धवन की जगह पर फील्डिंग की थी.