close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

World Cup 2019: विश्व चैंपियन बनने का सबसे बेहतरीन मौका इंग्लैंड के पास: माइकल वॉन

इंग्लैंड पांचवीं बार आईसीसी वनडे विश्व कप की मेजबानी कर रहा है. वह तीन बार फाइनल में पहुंचा है, लेकिन खिताब कभी नहीं जीता है. 

World Cup 2019: विश्व चैंपियन बनने का सबसे बेहतरीन मौका इंग्लैंड के पास: माइकल वॉन
माइकल वॉन इंग्लैंड के उन चुनिंदा क्रिकेटरों में से एक हैं, जिन्होंने विश्व कप में कप्तानी की है. (फाइल फोटो)

लंदन: इंग्लैंड क्रिकेट का जनक है. इतिहास का पहला टेस्ट और पहला वनडे मैच उसी ने खेला है. पहले तीन विश्व कप इंग्लैंड में ही खेले गए हैं. इसके बावजूद यह देश आज तक वनडे क्रिकेट का विश्व खिताब (World Cup 2019) नहीं जीत सका है. लेकिन इस बार इंग्लैंड को ही विश्व कप का सबसे मजबूत दावेदार माना जा रहा है. इसकी दो वजह हैं. पहली यह कि उसकी टीम इस समय दुनिया की सबसे संतुलित टीमों में से एक है. दूसरा कारण उसका मेजबान होना है. पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) का मानना है कि इयोन मॉर्गन की अगुवाई वाली इंग्लैंड की टीम के पास विश्व कप जीतने का सबसे अच्छा मौका है. 

पांच मैचों की वनडी सीरीज में पाकिस्तान को 4-0 से करारी शिकस्त देने के बाद, इंग्लैंड ने मंगलवार को आगामी टूर्नामेंट के लिए अपनी 15 सदस्यीय टीम घोषित की. विश्व कप (ICC Cricket World Cup 2019) के पहले मैच में मेजबान टीम का सामना दक्षिण अफ्रीका से होगा।. इंग्लैंड के पूर्व कप्तान ने इसके बाद कहा कि मौजूदा वनडे टीम के पास इस कीर्तिमान को स्थापित करने का अब तक का सबसे अच्छा मौका है. इंग्लैंड पांचवीं बार आईसीसी वनडे विश्व कप की मेजबानी कर रहा है. 

यह भी पढ़ें: World Cup 2019: शतकों के खेल में सचिन और संगकारा चैंपियन, विराट बना सकते हैं नया रिकॉर्ड

माइकल वॉन के हवाले से बीबीसी ने लिखा, ‘मैंने अब तक इंग्लैंड की टीमों को देखा है, उसमें से यह टीम सबसे बेहतरीन है. उन्होंने खिताब का प्रबल दावेदार माने जाने का अधिकार हासिल किया है.’ उन्होंने कहा, ‘मैं जबसे क्रिकेट देख रहा हूं तब से लेकर अब तक इस इंग्लैंड टीम के पास सबसे अच्छा मौका है. मुझे एक युवा खिलाड़ी के रूप में 1992 का विश्व कप याद है. मैंने वह फाइनल कॉलेज में देखा था.’ माइकल वॉन 2007 के विश्व कप में इंग्लैंड की कप्तानी कर चुके हैं. 

इंग्लैंड ने 1979, 1987 और 1992 में फाइनल में प्रवेश किया था, लेकिन चार साल पहले वह ग्रुप स्टेज से ही बाहर हो गया था. उन्होंने 2010 में आईसीसी टी-20 विश्व कप की ट्रॉफी अपने नाम की थी. वॉन ने कहा, ‘इंग्लैंड दो साल पहले चैंम्पियंस ट्रॉफी के सेमीफाइनल में पहुंचा था, लेकिन उस मौके पर खिताब नहीं जीत पाई. टीम को उस प्रतियोगिता को एक सकारात्मक अनुभव के रूप में देखना चाहिए और अगर वे फिर से सेमीफाइनल में पहुंचते हैं, तो उन्हें स्मार्ट क्रिकेट खेलनी होगी.’