close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कंगना रनौत ने फिर उठाया इंडस्ट्री पर सवाल, बोलीं- 'बॉलीवुड में टैलेंट की कद्र नहीं'

एक्ट्रेस ने हाल ही में दिए अपने एक इंटरव्यू में कहा कि अब मैं सख्त हो गई हूं. शुरू में जब मैं यहां आई, तो मुझे लगता था कि यहां प्रतिभा ही सबकुछ है और आपको खुद को साबित करना होगा.

कंगना रनौत ने फिर उठाया इंडस्ट्री पर सवाल, बोलीं- 'बॉलीवुड में टैलेंट की कद्र नहीं'
कंगना रनौत (फोटो साभार: Instagram)

नई दिल्ली: बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चा में बनी हुई हैं. कंगना रनौत अपनी फिल्म 'मणिकर्णिका' को बॉलीवुड से सरहाना नहीं से काफी खफा हैं और फिल्म की रिलीज के बाद से ही वो सेलेब्स पर धावा बोल रही हैं. तीन बार नेशनल अवार्ड विनर रह चुकीं कंगना रनौत का मानना है कि बॉलीवुड में प्रतिभा का कोई महत्व नहीं हैं. बता दें कि पिछले दिनों जी न्यूज को दिए गए इंटरव्यू में कंगना ने कहा था कि फिल्म इंडस्ट्री में बाहर से आई लड़कियों का शोषण होता है. वहीं बॉलीवुड में नेपोटिज्म की जड़े काफी गहरी हैं जो बाहर से आए लोगों को टिकने नहीं देती हैं. कंगना का कहना है कि ऐसे 'मूवी माफ़िया' का पर्दाफाश होना जरूरी है. 

एक्ट्रेस ने हाल ही में दिए अपने एक इंटरव्यू में कहा कि अब मैं सख्त हो गई हूं. शुरू में जब मैं यहां आई, तो मुझे लगता था कि यहां प्रतिभा ही सबकुछ है और आपको खुद को साबित करना होगा. मैंने बहुत सारी चीजें की और अपना रास्ता बनाने के लिए मैंने संघर्ष किया. मैंने फिल्ममेकिंग, स्क्रीप्टिंग सीखी. मैंने ये सोचते हुए सबकुछ किया कि प्रतिभा ही सबकुछ है. जब मैंने अपनी प्रतिभा के दायरे को बढ़ाया, तब मुझे अहसास हुआ कि इस उद्योग में प्रतिभा का कोई महत्व ही नहीं है. 

कंगना ने फिर खोली 'मूवी माफिया' की पोल, बोलीं- 'भाई-भतीजावाद ने बर्बाद कर दी इंडस्ट्री'

 
 
 
 

 
 
 
 
 
 
 
 
 

Enroute Mumbai  "Saying a bye is never easy, specially to the mountains" - #KanganaRanaut

A post shared by Kangana Ranaut (@team_kangana_ranaut) on

कंगना ने आगे कहा कि सत्ता की राजनीति करने वालों और खेल खेलने वाले लोगों ने अपने संपर्को और छोटे माफिया की मदद से अपना एक छोटा जाल बुना है. वे एक दूसरे के साथ मिलकर काम करते हैं. कंगना ने बताया कि इस सिस्टम को तोड़ने के लिए उन्हें सख्त कदम उठाने पड़े. इसे तोड़ने के लिए मुझे अपनी पसंद से सख्त बनना पड़ा, क्योंकि मुझे लगता है कि आपको वो मिलना चाहिए, जिसके आप लायक हो. कभी-कभी आपको वो हासिल करना पड़ता है, जिसके आप लायक हो. कंगना का मानना है कि अस्थिरता किसी को भी अभिनय पेशे में असुरक्षित महसूस कहा सकती है. 

बॉलीवुड की और खबरें पढ़ें