होली की गुजियों की मिठास कम न कर दें मिलावट, ऐसे घर में ही लगाएं पता

मिठाई कारोबारी गौरव नागपाल के मुताबिक मिठाई में मिलावट त्योहारों के समय में आम बात है क्योंकि इस वक्त लोगों को मिठाई ज्यादा खरीदनी होती है.

होली की गुजियों की मिठास कम न कर दें मिलावट, ऐसे घर में ही लगाएं पता
फाइल फोटो

नई दिल्ली : होली का त्योहार रंगों के साथ-साथ स्वादिष्ट गुजियों के लिए भी जाना जाता है. होली की तैयारियां मावे और मेवे से बनी मिठाइयों के बिना अधूरी हैं. ज्यादा बिकरी के चलते मिठाइयों में मिलावट का खतरा बना रहता है. ऐसे में हम आपको बताएंगे की कैसे एक आम इंसान बाजार में बिकने वाली मिठाइयों में मिलावट का पता लगा सकता है. 

दरअसल, इन दिनों खाने की चीजों में मिलावट की खबरें खूब आ रही हैं. मिठाई में मिलावट आम सी बात हो गई है. ऐसे में त्योहार में मिठाई कैसी लें और मिठाई दुकानदार किस तरह से मिठाई बेच रहे हैं. यह बहुत माईने रखता है. इसलिए हम की कई बड़ी मिठाई की दुकान में गए और हमने पाया कि इस बार दुकानदार मिलावट को लेकर काफी सचेत हैं और खास ख्याल रखकर मिठाई बना रहे हैं. दूध और खोवा इन दो चीज से ही सबसे ज्यादा मिठाई बनती है और अगर इन दोनों के साथ छेड़छा़ड़ होती है तो मिठाई अपनी मिठास खो देती है. 

मिठाई कारोबारी गौरव नागपाल के मुताबिक मिठाई में मिलावट त्योहारों के समय में आम बात है क्योंकि इस वक्त लोगों को मिठाई ज्यादा खरीदनी होती है और लोग अक्सर पैसे बचाने के लिए सस्ती मिठाइयां खरीद लेते हैं ऐसे में क्वालिटी मेंटेन नही हो पाती और मिठाई कारोबारी मिलावट करके मिठाइयों को सस्ते दामों में बेचते हैं.

हमने छोटे दुकानदार और जो सड़कों पर खुली मिठाई बेचते हैं. उनसे भी बात की. आप जानकर चौंक जाएंगे कि यहां भी मिलावट का खास ध्यान रखा जा रहा है. मतलब ये कि कम से कम इस बार आप निश्चिंत हो सकते हैं कि मिठाई में मिलावट की आशंका नहीं होगी. क्योंकि खुले में मिठाई बेचने वाले भी कह रहे हैं कि भले ही मिठाई कम बनाएं या नाबिके लेकिन जो बनाएंगे शुद्ध, किसी तरह से घटिया सामान इस्तेमाल नहीं करेंगे. 

इसके साथ ही हमने इस बात का पता लगाने की कोशिश की कैसे लोग अपने घर बैठे मिठाई की जांच कर सकते है, इसके लिए हम एक लेबोरेट्री तक पहुचे जहां पर दूध और उस से बने उत्पादों में मिलावट की जांच होती है. यहां पर कैमिकल रिएक्शन की मदद से मिलावट का पता लगाया जाता है. आम लोगों के लिए इसे आसान बनाने के लिए हाउसहोल्ट एडल्ट्रेशन किट बनाई जाती हैं जो कि मार्किट में या ऑनलाइन उपल्बध होती हैं. इससे दूध से बनी किसी भी मिठाई में यूरिया, सोडियम, डिटर्जेंट और स्टार्च का पता लगाया जा सकता है.  

एक नीजि कंपनी के क्वालिटी कंट्रोल ऑफिसर वेद राम ने बताया कि किस तरह से इस किट का प्रयोग करके घर बैठे मिठाइयों में यूरिया, सोडियम, डिटर्जेंट और स्टार्च का पता लगाया जा सकता है. इस किट में चार अलग अलग छोटी बोतलों में यूरिया, सोडियम स्टार्च और डिटरजेंट के सॉल्यूशन्स दिए और साथ ही 4 टेस्ट ट्यूब भी दिए गए है इसमे किसी भी मिठाई का सैंपल या दूध डाल दें उसके बाद ऊपर दिए गए सॉल्यूशन्स में से जिसका भी टेस्ट आप करना चाहते हैं उसे इस सैंपल के साथ मिलाएं. इस से जो रंग सामने आएगा उसे दिए गए मैन्युअल से मैच करके पता लगाएं की आपकी मिठाई में किस तरह की मिलावट की गई है.