close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अमरनाथ यात्रा: श्रद्धालुओं की सहूलियतों पर होगा खास ध्‍यान, तैनात होंगी स्‍पेशल रेस्‍क्‍यू टीम

भूस्‍खलन और तेज बारिश के चलते बीते बीते वर्ष न केवल कई दिनों तक अमरनाथ यात्रा प्रभावित रही थी, बल्कि कई श्रद्धालु रास्‍तों में फंस गए थे. 

अमरनाथ यात्रा: श्रद्धालुओं की सहूलियतों पर होगा खास ध्‍यान, तैनात होंगी स्‍पेशल रेस्‍क्‍यू टीम
अमरनाथ यात्रा-2019 की शुरूआत 1 जुलाई को होगी, यह यात्रा 15 अगस्‍त तक चलेगी. (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: अमरनाथ यात्रा-2019 शुरू होने में महज 18 दिन शेष रह गए हैं. 1 जुलाई से शुरू होने वाली अमरनाथ यात्रा के दौरान श्रद्धालु‍ओं को किसी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़े, इसके लिए जम्‍मू और कश्‍मीर प्रशासन ने यात्रा की तैयारियों को अंतिम रूप देना शुरू कर दिया है. बीते वर्ष, यात्रा के दौरान सामने आई परेशानियों से सबक लेते हुए जम्‍मू और कश्‍मीर प्रशासन ने इस वर्ष यात्रा के लिए कुछ खास इंतजाम किए हैं. इन्‍हीं इंतजामों में एक इंतजाम यात्रा मार्ग पर रेस्‍क्‍यू टीम की तैनाती का भी है. 

अमरनाथ यात्रा से जुड़े एक वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, बीते वर्ष यात्रा के दौरान भारी बारिश और भूस्‍खलन की कई घटनाएं सामने आईं थी. भूस्‍खलन और तेज बारिश के चलते बीते बीते वर्ष न केवल कई दिनों तक अमरनाथ यात्रा प्रभावित रही थी, बल्कि कई श्रद्धालु रास्‍तों में फंस गए थे. इस मुसाफिरों को आईटीबीपी और सीआरपीएफ की टीम ने ब‍मुश्किल रेस्‍क्‍यू कर सुरक्षित स्‍थानों पर पहुंचा था. इस वर्ष, ऐसे परिस्थिति उत्‍पन्‍न होने पर श्रद्धालुओं तक समय रहते मदद पहुंचाने के लिए प्रशासन ने यात्रा मार्ग पर 27 रेस्‍क्‍यू टीम तैनात करने का फैसला भी लिया है.  

यह भी पढ़ें: अमरनाथ यात्रा के दौरान होने वाले लंगरों पर CCTV से रखी जाएगी नजर

आपात स्थिति से निपटने के लिए रेस्‍क्‍यू यूनिट का हुआ गठन
यात्रा प्रबंधन से जुड़े वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि इस बार केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (सीआरपीएफ), नेशनल डिजास्‍टर रिस्‍पांस फोर्स (एनडीआरएफ), स्‍टेट डिजास्‍टर रिस्‍पांस फोर्स (एसडीआरएफ), इंडो-तिब्‍बत बार्डर पुलिस फोर्स (आईटीबीपी) सहित जम्‍मू-कश्‍मीर आर्म्‍ड फोर्स के जवानों को मिलाकर एक स्‍पेशल रेस्‍क्‍यू यूनिट का गठन किया गया है. इस रेस्‍क्‍यू यूनिट में कुल 27 टीमें होंगी. जिन्‍हें ऑक्‍सीजन सिलेंडर, प्राथमिक उपचार सामग्री सहित अन्‍य आवश्‍यक उपकरणों से लैस किया गया है. इन रेस्‍क्‍यू टीम की तैनाती अमरनाथ यात्रा के लिए निर्धारित दोनों मार्गों पर की जाएगी.

यह भी पढ़ें: 1 जुलाई से शुरू होगी अमरनाथ यात्रा, उससे पहले देखिए बाबा बर्फानी की पहली तस्‍वीर

हिमस्‍खलन रेस्‍क्‍यू ऑपरेशन टीमों की भी होगी मार्ग पर तैनाती
यात्रा प्रबंधन से जुड़े वरिष्‍ठ अधिकारी ने बताया कि इस वर्ष माउंटेन रेस्‍क्‍यू टीम की संख्‍या में बढ़ोत्‍तरी की गई है. इस वर्ष यात्रा के दौरान कुल 11 माउंटेन रेस्‍क्‍यू टीम यात्रा मार्ग पर तैनात होंगी. इसके अलावा, हिमालय रेंज में हिमस्‍खलन की आशंका को देखते हुए प्रशासन ने 12 एवलांच (हिमस्‍खलन) रेस्‍क्‍यू ऑपरेशन टीम को तैनात किया गया है. इन टीम में आईटीबीपी, सीआरपीएफ और स्‍टेट डिजास्‍टर रिस्‍पांड फोर्स के विशेष रूप से प्रशिक्षित किए गए जवानों को शामिल किया गया है.