Amarnath Yatra News

alt
Jul 14,2022, 16:35 PM IST
alt
Amarnath Yatra Ka Sach: मशहूर लेखक मार्क ने कहा था कि जितनी देर में सच अपने जूते के फीते बांधता है, तब तक झूठ आधी दुनिया का चक्कर लगा चुका होता है. यानी झूठ की रफ्तार इतनी तेज़ होती है कि सच हमेशा कहीं ना कहीं पीछे छूट जाता है. इतनी पीछे कि इस सच को फिर दुनिया झूठ मानने लगती है. हमारे देश के इतिहास में ऐसा ना जाने कितनी बार हुआ है. आप खुद सोचिए, क्या जो इतिहास आप दशकों से पढ़ते आ रहे हैं, वो पूरी तरह सही है? क्या उसमें मिलावट नहीं की गई? इस संदर्भ में आपको वो सच्चाई बताते हैं जिससे अभी तक लोगों को दूर रखा गया. ये सच भगवान शिव के प्रमुख धार्मिक स्थलों में से एक अमरनाथ गुफा से जुड़ा है. हमारे देश के इतिहासकारों और एक खास वर्ग द्वारा इस बात को कई बार दोहराया गया कि अमरनाथ गुफा की खोज वर्ष 1850 में एक मुस्लिम गडरिए ने की थी, जिसका नाम बूटा मलिक था ये एक झूठी कहानी है. सदियों से अमरनाथ में बाबा बर्फानी की खोज पर आपको जो बताया जा रहा है सब झूठ है. हम ऐसा क्यों कह रहे हैं आइए ऐतिहासिक दस्तावेजों के हवाले से आपको बताते हैं.
Jul 13,2022, 8:38 AM IST
Read More

Trending news