भारत में बिजली के इस्तेमाल में महिलाओं की तुलना में पुरुष आगे

7 राज्यों में हुआ सर्वे,  25% महिलाओं ने माना इलेक्ट्रिकल एपलाइंसेस की मदद से खुद को ज्यादा समय दे पा रही हैं.

भारत में बिजली के इस्तेमाल में महिलाओं की तुलना में पुरुष आगे
सर्वे में गुजरात के ग्रमीण इलाकों में 30 महिलाओं का इंटरव्यू किया गया, जिनसे घर में इस्तेमाल होने वाले एप्लाइंसिस और उसके इस्तेमाल के बारे में पूछा गया. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: आधुनिक दौर में नई टेकनोलॉजी और एडवांस इलेक्ट्रिकल एप्लाइंसेस ने घर का काम आसान कर दिया है. लेकिन यह भी एक सच्चाई है कि भारत में आज भी ज्यादातर महिलाएं ही घर के काम करती हैं. खाना बनाने से लेकर घर की साफ सफाई तक सभी काम आज भी महिलाओं के हिस्से में ही आता है.और पुरुष ज्यादातर बाहर का काम करते हैं. इससे आम धारणा यही होती है कि घर में रहने की वजह से बिजली का इस्तेमाल सबसे ज्यादा महिलाएं करती हैं. लेकिन ये स्टडी शायद आज आपकी सोच बदल दे. 

मशहूर साइंस मैगजीन 'नेचर' में छपे अमेरिका की कार्नेगी यूनिवर्सिटी की स्टडी में सामने आया है कि भारतीय घरों में बिजली का इस्तेमाल महिलाओं के मुकाबले पुरुष ज्यादा करते हैं.

यह भी पढ़ें- Zee Jankari: भारतीयों के छोटे दिमाग वाले रिसर्च का DNA टेस्ट

इसके लिए सबसे पहले गुजरात के ग्रमीण इलाकों में 30 महिलाओं का इंटरव्यू किया गया, जिनसे घर में इस्तेमाल होने वाले एप्लाइंसिस और उसके इस्तेमाल के बारे में पूछा गया. इसके बाद  इन एप्लाइंसिस को तीन श्रेणी में बांटा गया.  जिसमें ज्यादा पुरुषों द्वारा इस्तेमाल करने वाले उपकरण, ज्यादा महिलाओं द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले उपकरण और न्यूट्रल उपकरण. इसमें पंखा, लाइट, ऐसी, फ्रिज, माइक्रोवेव, टीवी 

यह भी पढ़ें- मुंहासों का खान-पान और टेंशन से है सीधा रिश्ता, रिसर्च में हुए और भी खुलासे

इस स्टडी में सामने आया कि घर में महिलाओं की तुलना में पुरुषों के इस्तेमाल के उपकरण ज्यादा हैं. स्टडी के मुताबिक गरीब से गरीब घरों में भी कई सारे पंखे और लाइट्स हैं लेकिन बहुत कम घरों के किचन में पंखे और लाइट मिले. 

स्टडी के मुताबिक जब महिलाओं से पूछा गया कि इन उपकरणों से उनका काम कितना कम हुआ, तो सिर्फ एक चौथाई महिलाओं ने माना कि इलेक्ट्रिकल एपलाइंसेस से उनका काम कम हुआ है. वहीं कई महिलाओं का कहना था कि इन में से ज्यादातर उपकरणों का इस्तेमाल पुरुष या बच्चे करते हैं.

यह भी पढ़ें-लगातार बढ़ रहा वायु प्रदूषण समय से पहले सुला रहा है मौत की नींद: रिसर्च

रिसर्च में ये भी सामने आया कि पुरुष प्रधान घरों की तुलना में जिन घरों का नेतृत्व महिलाएं करती हैं  उन घरों की रसोईयों में पंखे और लाइट पाए गए.