मनमोहन सिंह का बढ़ती बेरोजगारी का आरोप तथ्यात्मक रूप से गलत : बीजेपी सांसद
Advertisement

मनमोहन सिंह का बढ़ती बेरोजगारी का आरोप तथ्यात्मक रूप से गलत : बीजेपी सांसद

चंद्रशेखर ने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था 2014 में सिंह द्वारा प्रधानमंत्री पद छोड़ने के समय की तुलना में आज कहीं अधिक मजबूत और बेहतर स्थिति में है. 

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने एक सम्मेलन को संबोधित करते हुये कहा था कि देश में रोजगार पैदा होने के बजाय रोजगार के नुकसान वाली वृद्धि की स्थिति बन गई है.

बेंगलुरू: बीजेपी सांसद राजीव चंद्रशेखर ने सोमवार को कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का रोजगारविहीन वृद्धि का आरोप तथ्यात्मक रूप से गलत है क्योंकि, एनडीए सरकार ने अभी तक आधारभूत ढांचा क्षेत्र पर 10 लाख करोड़ रुपये खर्च किये हैं जो कि विपणन क्षेत्रों में नौकरियां सृजित कर रहा है जिसकी पुष्टि ईपीएफओ आंकड़े से हुई है. चंद्रशेखर ने कहा कि सिंह रोजगारविहीन वृद्धि के अपने दावे को मजबूती देने के लिए संभवत: राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण कार्यालय (एनएसएसओ) के लीक मसौदा सर्वेक्षण की ओर इशारा कर रहे थे.

चंद्रशेखर ने एक बयान में कहा, ''मनमोहन सिंह का रोजगारविहीन वृद्धि का आरोप तथ्यात्मक रूप से गलत है क्योंकि, वह संभवत: एनएसएसओ आंकड़े की ओर इशारा कर रहे थे जो कि सामान्य तौर पर एक सर्वेक्षण है, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) की तरह कोई वास्तविक आंकड़ा नहीं.'' उन्होंने कहा, ''मोदी सरकार की ओर से पिछले पांच वर्षों में आधारभूत ढांचे में खर्च 10 लाख करोड़ रुपये सड़क, बंदरगाह और रेलवे में हुआ है. इन सभी निर्माणों से विपणन क्षेत्रों में नौकरियां सृजित हो रही हैं.''

उन्होंने कहा कि यह चुनावी मौसम है और इसलिए प्रत्याशित है कि कुछ लोग सर्वेक्षण आंकड़े का इस्तेमाल अपनी सुविधा के अनुसार करेंगे और सिंह भी ऐसा ही कर रहे हैं. चंद्रशेखर ने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था 2014 में सिंह द्वारा प्रधानमंत्री पद छोड़ने के समय की तुलना में आज कहीं अधिक मजबूत और बेहतर स्थिति में है. पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने दिल्ली इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट में आयोजित सम्मेलन को संबोधित करते हुये कहा था कि देश में रोजगार पैदा होने के बजाय रोजगार के नुकसान वाली वृद्धि की स्थिति बन गई है. साथ ही ग्रामीण ऋणग्रस्तता और शहरी अव्यवस्था के चलते आकांक्षी युवाओं में असंतोष पैदा हो रहा है.  

(इनपुट भाषा से)

Trending news