दिल्ली में बारिश से प्रदूषण स्तर होगा कम, लेकिन बना रहेगा 'बेहद खराब' : सफर

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के कुछ हिस्सों में सोमवार रात में बारिश होने के बाद सफर ने कहा कि मंगलवार को इसके सुधर कर ‘खराब’ की श्रेणी में पहुंचने का अनुमान है.

दिल्ली में बारिश से प्रदूषण स्तर होगा कम, लेकिन बना रहेगा 'बेहद खराब' : सफर
फाइल फोटो

नई दिल्ली: दिल्ली की वायु गुणवत्ता ‘बेहद खराब” की श्रेणी में दर्ज की गई लेकिन बादल गरजने के साथ हुई बारिश के चलते प्रदूषण का स्तर कम होने की संभावना है. केंद्र सरकार द्वारा संचालित संस्था ‘सफर’ ने सोमवार को यह जानकारी दी. वायु गुणवत्ता तथा मौसम पूर्वानुमान एवं अनुसंधान संस्था (सफर) के मुताबिक वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) बुधवार को 339 दर्ज किया गया जो ‘बेहद खराब’ की श्रेणी में आता है. वहीं, केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने भी एक्यूआई 339 दर्ज किया. 

सफर ने कहा, “अरब सागर से नमी का प्रवेश जारी है और इससे पश्चिमोत्तर भारत में बादल गरजने के साथ बारिश का होना बढ़ गया है. धूल भरी हवाओं के साथ ही आंधी-बारिश से दिल्ली समेत पश्चिमोत्तर भारत में कुछ समय के लिए दूरदराज स्थानों पर धूल की मात्रा अचानक बढ़ सकती है.” 

 

 

संस्था ने कहा कि दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक धीरे-धीरे बेहतर हो जाएगा लेकिन यह रहेगा ‘बेहद खराब’ की श्रेणी में ही. सफर ने कहा कि मंगलवार को इसके सुधर कर ‘खराब’ की श्रेणी में पहुंचने का अनुमान है. बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के कुछ हिस्सों में सोमवार रात में बारिश होने से लोगों को जबर्दस्त गर्मी से थोड़ी राहत मिली. साथ ही शहर के कुछ हिस्सों में धूल भरी आंधी चली. 

मौसम विभाग के मुताबिक, शाम साढ़े आठ बजे बारिश शुरू हुई और नौ बजे तब दिल्ली के कुछ हिस्सों में भारी बारिश हुई. बारिश होने से पहले अधिकतम तापमान 40.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया और न्यूनतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस था. मौसम विभाग ने बताया कि पालम वेधशाला के तहत आने वाले इलाकों और सफदरजंग वेधशाला के तहत आने वाले कुछ इलाकों में तेज रफ्तार हवा के साथ धूल भरी आंधी आई.

मौसम विभाग के अनुसार, सोमवार को 85 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी के साथ बारिश हुई. बता दें कि सोमवार को शाम से ही मौसम ने करवट बदल ली थी. आसमान में बादल छाने लगा थे और हल्की हवाओं के बाद तेज आंधी शुरू हो गई.