गुरुग्रामः सेंटा क्लॉज बनकर आए चोरों ने तोड़े 10 दुकानों के शटर, लाखों का सामान किया साफ

गुरुग्राम के खांडसा रोड पर डी.ए.वी स्कूल मार्केट में आज अल सुबह सेंटा क्लॉज का नकाब ओढ़े 2 बदमाशो ने 10 दुकानों का शटर उखाड़ लाखों के सामान पर हाथ साफ कर डाला.

गुरुग्रामः सेंटा क्लॉज बनकर आए चोरों ने तोड़े 10 दुकानों के शटर, लाखों का सामान किया साफ
प्रतीकात्मक तस्वीर

गुरुग्रामः 25 दिसम्बर यानी क्रिसमिस पर आपने सेंटा क्लॉज को बच्चों को गिफ्ट देने के बारे में अक्सर सुना होगा, लेकिन यही सेंटा क्लोज का नकाब अगर चोरों के लिए अपने चेहरे को छुपाने का जरिया बन जाए तो आप क्या कहेंगे. दरअसल, गुरुग्राम के खांडसा रोड पर डी.ए.वी स्कूल मार्केट में आज अल सुबह सेंटा क्लॉज का नकाब ओढ़े 2 बदमाशो ने 10 दुकानों का शटर उखाड़ लाखों के सामान पर हाथ साफ कर डाला. वारदात का खुलासा तब हुआ जब दुकानदार सुबह अपनी शॉप पर पहुंचे. हालांकि, शातिर चोर सीसीटीवी में कैद जरूर हुए हैं, लेकिन सेंटा क्लॉज के इस नकाब के चलते इनकी पहचान गुरुग्राम पुलिस के लिए मुसीबत बन गई है.

VIDEO : चोरी करने के लिए बनाया अनोखा प्लान और ज्वैलरी शॉप से उड़ा लिए लाखों के गहने

साइबर सिटी के खांडसा रोड और जेल कॉम्प्लेक्स में शातिर चोरों ने तकरीबन 16 दुकानों में सेंध लगाई. जिसमें दो बैंक भी शामिल थे. हालांकि, इनमें से जेल कॉम्लेक्स के चोर बैंकों में सेंध लगाने में असफल रहे, लेकिन दोनों वारदातो में चोरों की बुलंद हौसलों से आप इस बात का अंदाजा लगा सकते हैं कि दोनों वारदातें शिवाजी नगर पुलिस स्टेशन से महज 500 मीटर की दूरी पर अंजाम दी गई. वहीं यूको बैंक मैनेजर की मानें तो इस मार्केट से बाइक चोरी तो आम बात है, लेकिन अब जिस तरह से एक रात में दो बैंकों समेत 4 अन्य दुकानों को निशाना बनाया गया है कानून व्यवस्था पर सवाल उठ खड़े हुए हैं.

CCTV की निगरानी में आया बिहार का यह गांव, चोरों के आतंक से परेशान थे लोग

वहीं दोनों वारदातों से रात के समय पुलिस की गश्त के तमाम दावों की पोल जरूर खुलती दिखाई दे रही है. बता दें ये चोरी की वारदातें पुलिस बूथ और थाने से महज कुछ ही दूरी पर हुई हैं और पुलिस को इसकी कानोकान खबर तक नही हो पाई. बहरहाल, पुलिस ने दोनों वारदातो में सीसीटीवी फुटेज में कैद हुए चोरों जानकारी ले मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है और जांच की बात कह रही है, लेकिन सवाल यह है कि बिना पहचान के पुलिस कैसे इन चोरों तक पहुंचेगी.