close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चिंता बढ़ाने वाली खबर: भारत नहीं रहेगा युवाओं का देश, बढ़ जाएगी वृद्धों की संख्या

एक अन्य आंकड़े के अनुसार, 60 वर्षीय लोगों की जनसंख्या में 8.6 से 15.4 प्रतिशत तक वृद्धि होगी. जनसंख्या में 25-29 वर्ष की आयु वर्ग का प्रतिशत 19.0 से घटकर 15.0 प्रतिशत रह जाएगा. 

चिंता बढ़ाने वाली खबर: भारत नहीं रहेगा युवाओं का देश, बढ़ जाएगी वृद्धों की संख्या
जनसंख्या में 15 से 59 वर्ष के आयु वर्ग के प्रतिशत में 60.5 से 66.7 तक मामूली वृद्धि होगी.

नई दिल्ली: जनसंख्या अनुमानों पर सरकार के तकनीकी समूह के प्रारंभिक निष्कर्ष के अनुसार, वर्ष 2011 की अंतिम जनगणना के मुकाबले 2036 में भारत की जनसंख्या में 26 प्रतिशत की वृद्धि होने की संभावना है और 60 वर्षीय लोगों की जनसंख्या का प्रतिशत लगभग दोगुना हो जाएगा. वहीं युवा आयु वर्ग की संख्या में गिरावट होगी. हाल ही में एक प्रश्न के प्रतिउत्तर में राष्ट्रीय जनसंख्या आयोग द्वारा गठित तकनीकी समूह के जांच परिणाम को संसद में साझा किया गया था.

मई में मिले समिति के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, "यह प्रारंभिक तथ्यों पर आधारित प्रारंभिक प्रारूप है. जब सारे आंकड़े एकत्र कर लिए जाएंगे, तब दूसरा प्रारूप तैयार किया जाएगा. समिति इस क्षेत्र में काम कर रही है." बैठक की अध्यक्षता भारत के रजिस्ट्रार जनरल और जनगणना आयुक्त विवेक जोशी ने की और उद्घाटन राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अतिरिक्त सचिव और मिशन निदेशक मनोज झालानी ने किया. आंकड़ों के अनुसार, 2011 में 121.1 करोड़ रही भारत की जनसंख्या, 26.8 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 2035 में 153.6 करोड़ हो जाएगी.

वहीं, एक अन्य आंकड़े के अनुसार, 60 वर्षीय लोगों की जनसंख्या में 8.6 से 15.4 प्रतिशत तक वृद्धि होगी. जनसंख्या में 25-29 वर्ष की आयु वर्ग का प्रतिशत 19.0 से घटकर 15.0 प्रतिशत रह जाएगा. 15 वर्ष के आयुवर्ग से कम की जनसंख्या प्रतिशत में सबसे ज्यादा गिरावट 30.9 से 17 प्रतिशत तक होगी. जनसंख्या में 15 से 59 वर्ष के आयु वर्ग के प्रतिशत में 60.5 से 66.7 तक मामूली वृद्धि होगी. शिशु मृत्यु दर भी 2011-15 में 43 से घटकर 30 तक आने की उम्मीद है. वहीं, शहरी जनसंख्या में 25 प्रतिशत तक वृद्धि होगी.