बेंगलुरु: भारतीय वायुसेना का विमान दुर्घटनाग्रस्त, दोनों पायलटों की हुई मौत

अधिकारी ने बताया कि दोनों पायलटों ने खुद को बचाने के लिए विमान से निकल जाने की कोशिश की लेकिन वह धमाके बाद विमान में लगी आग की चपेट में आ गए. 

बेंगलुरु: भारतीय वायुसेना का विमान दुर्घटनाग्रस्त, दोनों पायलटों की हुई मौत
.(फाइल फोटो)

बेंगलुरु: भारतीय वायुसेना का मिराज 2000 प्रशिक्षक विमान शुक्रवार को बेंगलुरु स्थित हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड हवाई अड्डे पर दुर्घटनाग्रस्त हो गया जिसमें दोनों पायलटों की मौत हो गई. रक्षा अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी. अधिकारी ने बताया कि दोनों पायलटों ने खुद को बचाने के लिए विमान से निकल जाने की कोशिश की लेकिन वह धमाके बाद विमान में लगी आग की चपेट में आ गए. रक्षा विभाग के जनसंपर्क अधिकारी ने एक बयान में कहा, "आज सुबह मिराज 2000 प्रशिक्षक विमान अपग्रेड किये जाने के बाद संक्षिप्त उड़ान पर निकला था कि कुछ ही देर बाद वह बेंगलुरू के एचएएल हवाई अड्डे पर दुर्घटनाग्रस्त हो गया." 

हादसे में मारे गए पायलटों की पहचान स्क्वॉड्रन लीडर समीर अब्रोल और स्क्वॉड्रन लीडर सिद्धार्थ नेगी के रूप में हुई है. एक अधिकारी ने बताया, "दुर्घटना में एक पायलट का शव पूरी तरह झुलस गया जबकि दूसरे पायलट को सेना के अस्पताल ले जाया गया." अधिकारी ने बताया कि बाद में घायल पायलट की भी मौत हो गई.

एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि विमान में धमाका होने के बाद आग की लपटें उठने लगीं और घटनास्थल पर धुआं फैल गया, जिससे आसपास से गुजरने वाले लोग और हवाईअड्डे के आसपास रहने वाले लोग हैरान रह गए. इसके बाद अग्निशामकों और हवाई अड्डे के कर्मचारियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया और पायलटों को बाहर निकालने की कोशिश की. 

इनपुट आईएएनएस से भी