close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

LIVE UPDATE: पढ़ें दिनभर की बड़ी खबरें...

राष्ट्रीय जनता दल की नेता मीसा भारती ने गुरुवार को न्यूज एजेंसी एएनआई से कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दी जा रही डिनर पार्टी में आरजेडी शामिल नहीं होगी. उन्होंने इसके पीछे वजह बताई कि बिहार के मुजफ्फरपुर में इंसेफ्लाइटिस से बच्चों की लगातार मौत हो रही है. 

अंतिम अपडेट: गुरुवार जून 20, 2019 - 05:41 PM IST
फोटो सौजन्य: ANI

पटना: राष्ट्रीय जनता दल की नेता मीसा भारती ने गुरुवार को न्यूज एजेंसी एएनआई से कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दी जा रही डिनर पार्टी में आरजेडी शामिल नहीं होगी. उन्होंने इसके पीछे वजह बताई कि बिहार के मुजफ्फरपुर में इंसेफ्लाइटिस से बच्चों की लगातार मौत हो रही है. 

20 जून 2019, 17:42 बजे

मुंबई: महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ गठबंधन में शामिल शिवसेना ने कहा है कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री उसकी पार्टी से होगा. पार्टी ने बुधवार को अपने मुखपत्र ‘सामना’ में ऐसे समय में यह बात कही, जब मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस यहां शिवसेना के स्थापना दिवस कार्यक्रम में शामिल हुए. पार्टी ने कहा कि यह सही है कि राज्य में उसका भाजपा के साथ गठबंधन है पर उसका एक स्वतंत्र राजनीतिक अस्तित्व है. मुखपत्र में कहा गया है कि पार्टी दृढ़प्रतिज्ञ है कि अगली विधानसभा को ‘भगवा’ रंग में रंगा जाए और अगले साल होने वाले 54वें स्थापना दिवस पर उसके मंच पर पार्टी का ही मुख्यमंत्री दिखाई दे.

20 जून 2019, 17:24 बजे

नई दिल्ली: कांग्रेस ने गुरुवार को कहा कि यह आरोप लगाना भाजपा को शोभा नहीं देता कि राष्ट्रपति के अभिभाषण के दौरान राहुल गांधी की नजर अपने मोबाइल फोन पर थी. पार्टी के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने यह सवाल भी किया कि अभिभाषण के दौरान भाजपा के कई नेता और मंत्री आपस में बातें कर रहे थे, लेकिन इस पर कुछ कहना उचित है. 

उन्होंने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा, ‘‘इस तरह की टिप्पणी पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी जा सकती. राहुल गांधी हमारे साथ बैठे थे और सुन रहे थे. अब यह कहा जाए कि भाजपा का कौन सा नेता किससे बात कर रहा था, कहां देख रहा था. गंभीर और सत्तारुढ़ राजनीतिक दलों को ऐसी टिप्पणी शोभा नहीं देती है.’’ 

शर्मा ने कहा, ‘‘कुछ हिंदी के जटिल शब्द और उन्होंने स्पष्ट रूप से नहीं सुना था और उसी के संदर्भ में पूछे रहे थे. अगर भाजपा के वरिष्ठ मंत्री आपस में बात कर रहे थे तो क्या वह राष्ट्रपति के पद का अनादर कर रहे थे.’’ दरअसल, केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह और बाबुल सुप्रियो सहित सत्तापक्ष के कई सांसदों ने राष्ट्रपति के अभिभाषण के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की नजर मोबाइल फोन पर होने संबंधी तस्वीर सामने आने के बाद उन पर तंज कसते हुए इसे दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया.