MamataVsCBI: सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर ममता बोलीं- ये लोकतंत्र की जीत है

 कोर्ट का फैसला आने के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि हमने कभी भी राजीव कुमार से पूछताछ करने से इनकार नहीं किया.

MamataVsCBI: सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर ममता बोलीं- ये लोकतंत्र की जीत है
सुप्रीम कोर्ट की ओर से पुलिस कमिश्रनर राजीव कुमार की गिरफ्तारी पर रोक लगाने पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने खुशी जाहिर की हैं.
Play

नई दिल्ली: पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को लेकर सीबीआई से टकराव ले रहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamta banerjee) ने इस मसले पर सुप्रीम कोर्ट से आए फैसले को मनोवैज्ञानिक जीत बताई हैं. सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को CBI के सामने सारदा स्कैम मामले में पूछताछ के लिए पेश होने को कहा है. हालांकि कोर्ट ने राजीव कुमार की गिरफ्तारी पर रोक लगा दी है. कोर्ट का फैसला आने के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि हमने कभी भी राजीव कुमार से पूछताछ करने से इनकार नहीं किया. हमें इस बात पर आपत्ति थी की सीबीआई बिना राज्य प्रशासन को सूचना दिए हुए पुलिस कमिश्नर को गिरफ्तार करने पहुंच गई थी.

ममता ने कहा सुप्रीम कोर्ट का आदेश सही है. इस फैसले से लोकतंत्र की जीत हुई है. ये जीत देश के सुरक्षाबलों और आम जनता की है. आज देश के हर तबके को तंग किया जा रहा है. कोर्ट ने इसपर रोक लगाने का काम किया है.

ममता ने कहा कि केंद्र की एजेंसियों को बिना राज्य सरकार से बातचीत या सुझाव लिये सीधे राज्य में नहीं आना चाहिए. राजीव कुमार ने पहले ही पांच पत्र लिखकर कहा था कि किसी म्युचुअल जगह पर पूछताछ करो. लोगों के अलवा इस देश का कोई बिग बॉस नहीं है, लोकतंत्र ही सबसे बड़ा बॉस है.

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सीबीआई पश्चिम बंगाल की पुलिस के कमिश्रनर राजीव कुमार से शिलांग में पूछताछ करेगी. सीबीआई कमिश्नर राजीव कुमार के घर की तलाशी नहीं ले पाएगी. साथ ही वह उन्हें गिरफ्तार भी नहीं कर पाएगी. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी इसे ही अपनी मनौवैज्ञानिक जीत बता रही हैं. ममता ने धरना खत्म करने के सवाल पर कहा कि वह आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू सहित अन्य विपक्षी दलों के नेताओं से बातचीत के बाद इस मसले पर फैसला लेंगे.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.