close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कई राजदूतों और राजनयिकों ने भी किए योगासन, बोले- दुनिया को भारत की महान देन है योग

विदेश मंत्रालय की ओर से चाणक्यपुरी के प्रवासी भारतीय केंद्र के विशाल सभागार में योग दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में राजदूतों के साथ ही वरिष्ठ राजनयिकों ने विभिन्न ‘आसन’ किए. 

कई राजदूतों और राजनयिकों ने भी किए योगासन, बोले- दुनिया को भारत की महान देन है योग
(फोटो साभार- @DrSJaishankar)

नई दिल्ली: अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर विभिन्न देशों के करीब 60 राजदूतों ने विभिन्न योगासनों के जरिए इस दिन को मनाया. इनमें से कई ने योग को भारत की ओर से विश्व को दिया गया 'अद्भुत योगदान’ बताया. 

विदेश मंत्रालय की ओर से चाणक्यपुरी के प्रवासी भारतीय केंद्र के विशाल सभागार में योग दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में इन राजदूतों के साथ ही भारत एवं अन्य देशों के विभिन्न वरिष्ठ राजनयिकों ने विभिन्न ‘आसन’ किए. 

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने संबोधन में कहा, 'इसकी (योग) व्यापक पहुंच एवं स्वीकृति हर जगह साफ तौर पर दिख रही है और खास कर उन देशों को लेकर मैं आश्वस्त हूं, जिनका यहां प्रतिनिधित्व हो रहा है.' 

जयशंकर ने कहा, 'यूनेस्को द्वारा इसे विश्व अमूर्त सांस्कृतिक धरोहर के तौर पर शामिल किया जाना संपूर्ण मानवता के लिए इसके वैश्विक महत्त्व एवं लाभ को रेखांकित करता है.' 

भारत में डोमिनिकन गणराज्य के दूत एवं डिप्लोमैटिक कोर के डीन हैंस डैननबर्ग कास्टेलानोस ने कहा, 'कार्यक्रम में कई देशों का प्रतिनिधत्व हुआ. अन्य देशों के वरिष्ठ राजनयिकों के अलावा करीब 60 राजदूतों ने इसमें हिस्सा लिया.' 

जर्मनी के राजदूत वाल्टर जे लिंडनर ने कार्यक्रम के बाद कहा, 'मैं थोड़ा थका हुआ लेकिन खुश महसूस कर रहा हूं.' वह सफेद कुर्ता-पायजामा में इस कार्यक्रम में शामिल हुए.  वेनेजुएला के दूत कोरोमोट गोडोय कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद उत्साहित थे.

वियतनाम के राजदूत फाम सान्ह चाउ, मिस्र के राजदूत हेबा एल्मारस्सी, इजरायल के राजदूत रोन माल्का, भूटान के दूत मेजर जनरल वेटसोप नामग्येल, बोस्निया-हर्जेगोविना मुहम्मद सेनजिक और एस्टोनिया, स्लोवेनिया, गाम्बिया, नेपाल के राजदूतों ने भी इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया. 

जयशंकर ने बाद में कार्यक्रम के बारे में ट्वीट भी किया कि 56 देश, सात संगठन, 260 राजनयिकों ने योग दिवस कार्यक्रम में हिस्सा लिया. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए और उन्होंने कई योगासन किए. विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन और आईसीसीआर के महानिदेशक अखिलेश मिश्रा भी इस मौके पर मौजूद थे.