अमरनाथ यात्र‍ियों के लिये ऑनलाइन र‍ज‍िस्‍ट्रेशन की सुव‍िधा, अब मिलेगी बारकोड पर्चियां

अमरनाथ यात्रि‍यों के लिए ऑनलाइन र‍ज‍िस्‍ट्रेशन सुव‍िधा शुरू कर दी गई. इस सुविधा को जम्‍मू कश्‍मीर के राज्‍यपाल और अमरनाथ श्राइन बोर्ड के चेयरमैन सत्‍यपाल मलिक ने लॉन्‍च किया.

अमरनाथ यात्र‍ियों के लिये ऑनलाइन र‍ज‍िस्‍ट्रेशन की सुव‍िधा, अब मिलेगी बारकोड पर्चियां

नई दिल्ली: जम्मू एंड कश्मीर में अमरनाथ यात्रा के लिये सुरक्षा के इंतजाम कड़े कर दिए गए हैं. अमरनाथ यात्रि‍यों के लिए ऑनलाइन र‍ज‍िस्‍ट्रेशन सुव‍िधा शुरू कर दी गई. इस सुविधा को जम्‍मू कश्‍मीर के राज्‍यपाल और अमरनाथ श्राइन बोर्ड के चेयरमैन सत्‍यपाल मलिक ने लॉन्‍च किया.

यात्रि‍यों की सुव‍िधा को ध्‍यान में रखते हुए अधिकारी तीर्थयात्रियों को 'बारकोड' पर्चियां जारी करने पर विचार कर रहे हैं. ताकि अमरनाथ गुफा से आने-जाने वाले लोगों की वास्तविक संख्या पर नज़र रखी जा सके. तीर्थयात्रा की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) तीर्थयात्रियों और इससे जुड़े अन्य नागरिकों को लाने ले जाने वाले वाहनों पर उन्नत विद्युत चुम्बकीय चिप या आरएफआईडी (रेडियो-फ़्रीक्वेंसी आइडेंटिफ़िकेशन) टैग लगाएगा.

केन्द्र ने एक जुलाई से शुरू हो रही 46 दिवसीय यात्रा की सुरक्षा में केन्द्रीय बलों और राज्य पुलिस बल के 40,000 से ज्यादा जवानों को तैनात करने का फैसला लिया है. यात्रा दो मार्गों से शुरू होगी, जिसमें अनंतनाग का पारंपरिक पहलगाम मार्ग और गंदेरबल जिले का सबसे छोटा बालताल मार्ग शामिल है. अमरनाथ यात्रा 15 अगस्त को संपन्न होगी. इसी दिन देश में रक्षा बंधन का त्योहार मनाया जाएगा.

सीआरपीएफ के महानिदेशक आर आर भटनागर ने बताया, "हम इस बार एक पायलट प्रोजेक्ट लेकर आएंगे और अमरनाथ तीर्थयात्रियों को बारकोडयुक्त यात्रा पर्चियां दी जाएंगीं. इससे हमें अमरनाथ गुफा से आने-जाने वाले लोगों की वास्तविक संख्या पर नज़र रखने और सुरक्षा व्यवस्था को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी."

अमरनाथ यात्रा 1 जुलाई से शुरू होगी. ऑनलाइन रज‍िस्‍ट्रेशन की सुव‍िधा रोजाना 500 इच्‍छुक श्रद्धालुओं को मि‍लेगी. इसे www.shriamarnathjishrine.com पर क्‍ल‍िक कर रज‍िस्‍ट्रेशन कराया जा सकता है.

input: Bhasha