पाकिस्तान में लखवी द्वारा ट्रेंड हुआ आतंकी घाटी से हुआ गिरफ्तार, 2 साल से था सक्रिय

श्रीनगर में बुधवार को जम्मू-कश्मीर पुलिस द्वारा पकड़े गए आतंकी मोहम्मद वकास को मीडिया के सामने पेश किया गया. इसे पाकिस्तान के दुर्दांत आतंकी लखवी के द्वारा ट्रेनिंग दी गई थी.

पाकिस्तान में लखवी द्वारा ट्रेंड हुआ आतंकी घाटी से हुआ गिरफ्तार, 2 साल से था सक्रिय

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर पुलिस ने सोमवार को लश्कर का आतंकी पकड़ा. पुलिस के महानिदेशक के अनुसार यह पाकिस्तान के लिए एक जीता जागता सबूत है कि किस तरह से वह आतंकियों को तैयार कर यहां भेजते हैं. वहीं एसएसपी बारामूला ने बताया कि इसका उद्देश्य था बारामूला में फिर से आतंकवाद को रिवाईव करवाना.

इस आतंकी को सोमवार को बारामूला ज़िले के पट्टन के चैनाबल इलाके में सेना की 29 राष्ट्रीय राइफल्स (आरआर), सीआरपीएफ़ और जम्मू कश्मीर पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) द्वारा दबोचा गया था. आतंकी एक कार में सवार था, जिसे एक स्थानीय कश्मीरी तफ़ाजुल चला रहा था. लेकिन सुरक्षाबलों की मुस्तैदी ने इनके मंसूबों पर पानी फेर दिया.

घाटी में सेना का आतंक पर करारा वार, जैश ए मोहम्मद का नेतृत्व संभालने को नहीं कोई तैयार

श्रीनगर में बुधवार को जम्मू-कश्मीर पुलिस द्वारा पकड़े गए आतंकी मोहम्मद वकार को मीडिया के सामने पेश किया गया. इस अवसर पर जम्मू एंड कश्मीर पुलिस के महानिदेशक दिलबाग सिंह, सेना की 15वी कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों और सीआरपीएफ़ के आईजी (ओप्स) ज़ुल्फिकार हसन के अलावा पुलिस के अन्य आला अधिकारी भी मौजूद थे. डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा कि पकड़ा गया आतंकी एक सबूत है कि पाकिस्तान में आतंकवाद की फैक्ट्री है. उन्होंने कहा कि इसके पकड़े जाने से कम से कम पाकिस्तान को यह जीता जागता सबूत दिखाया जाएगा.

पाकिस्तान के झूठ का पर्दाफाश, मसूद अजहर ने कहा-मैं पिछले 17 सालों में कभी बीमार नहीं हुआ

वहीं एसएसपी बारामूला अब्दुल कयूम ने जानकारी देते हुए बताया कि पकड़ा गया आतंकी मोहम्मद वकार (कोड: छोटा दुजाना) पंजाब पाकिस्तान के मियां वली इलाके के मियाना मोहल्ला का रहने वाला था, जो वर्ष 2017 में जुलाई के महीने में घुसपैठ कर यहां दाखिल हुआ था. उन्होंने बताया कि वो शुरू में सीमांत ज़िले कुपवाड़ा के हंदवाड़ा में सक्रिय था, जिसके बाद वो श्रीनगर गया और पिछले करीब दो साल से यह आतंकी श्रीनगर शहर के विभिन्न इलाकों से ऑपरेट कर रहा था.

एसएएसपी ने बताया कि सोमवार को यह आतंकी एक अन्य शख्स के साथ श्रीनगर से बारामूला की ओर जा रहा था तो नाके पर उन्हें रोकने की कोशिश की गई. लेकिन गाड़ी चालक ने पुलिस के एक अधिकारी की रक्षक गाड़ी को टक्कर मार दी और मौके से फरार हो गए. एसएसपी के अनुसार पुलिस ने उनका पीछा किया एक गाँव की ओर डेढ़ किमी तक जाने के बाद वह दोनों गाड़ी छोड़कर पानी पार कर भाग रहे थे तभी दोनों को दबोच लिया गया. इस बीच पूछताछ के दौरान पता चला कि यह पाकिस्तानी आतंकी है और उसके साथ पकड़ा गया ड्राईवर स्थानीय कश्मीरी.

एसएसपी ने बताया कि ड्राईवर ही इसे मुकाम तक लेकर जा रहा था, लेकिन अभी कहाँ लेकर जा रहा था इसको लेकर पूछताछ जारी है, लेकिन हमारे 5 मिले इनपुट्स के अनुसार जब पिछली बार बारामूला को आतंकवाद मुक्त ज़िला घोषित किया गया था तो इन पर बहुत दबाव था, आतंकवाद को दोबारा से वहाँ रिवाईव करने का और यह इसी सिलसिले में वहाँ जा रहे थे. उन्होंने यह भी बताया कि एक पिस्टल और अन्य सामान बरामद हुआ और आगे की पूछताछ के बाद बाकी की जानकारी जल्द मीडिया को दी जाएगी.