आतंकवाद की मदद करके खुद को और मानवता को नुकसान पहुंचा रहा है पाकिस्तान: वेंकैया नायडू

उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा कि भारत सभी देशों और पड़ोसियों से मित्रवत संबंध चाहता है और उसने कभी किसी देश पर हमला नहीं किया.

आतंकवाद की मदद करके खुद को और मानवता को नुकसान पहुंचा रहा है पाकिस्तान: वेंकैया नायडू
उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: आतंकवाद में मदद करने और उसे प्रोत्साहित करने के लिए पाकिस्तान को आड़े हाथ लेते हुए उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने शनिवार को कहा कि पड़ोसी देश इस तरह की करतूतों से खुद को और मानवता को बर्बाद कर रहा है तथा आतंकवाद की समस्या के उन्मूलन के लिए वैश्विक सहमति बनाई जानी चाहिए.

नायडू ने यहां एक कार्यक्रम में पाकिस्तान का नाम लिए बिना कहा,‘हमारा पड़ोसी आतंकवादियों की मदद कर रहा है, उन्हें उकसा रहा है, पैसे दे रहा है और प्रशिक्षण दे रहा है. वे समझ नहीं पा रहे हैं कि उन्होंने मानवता को और खुद को भी कितना नुकसान पहुंचाया है.’ उन्होंने कहा कि भारत सभी देशों और पड़ोसियों से मित्रवत संबंध चाहता है और उसने कभी किसी देश पर हमला नहीं किया.

'अगर कोई शरारत करना चाहता है तो हमें जवाब देना होगा' 
नायडू के मुताबिक, ‘अगर कोई शरारत करना चाहता है तो हमें जवाब देना होगा और इसके लिए देश को एकजुट रहना होगा.’ उन्होंने कहा,‘हम देशों को आतंकवादी गतिविधियों को प्रोत्साहित नहीं करने दे सकते और आतंकियों को सुरक्षित पनाह तथा प्रशिक्षण शिविर मुहैया नहीं कराने दे सकते.’

पाकिस्तान में आतंकवादियों के प्रशिक्षण शिविर पर भारतीय वायुसेना की हालिया कार्रवाई की ओर इशारा करते हुए उपराष्ट्रपति ने कहा,‘देश को अधिक मजबूत और विकसित बनाने के लिए टीम इंडिया की तरह काम करना होगा जो शत्रु ताकतों और कुत्सित सोच के खिलाफ अपना बचाव करने में सक्षम है, जैसा कि हमने सीमापार आतंकवाद को रोकने में हमारे पड़ोसी की निष्क्रियता पर दो दिन पहले करारा जवाब देकर किया था.’

नायडू ने कहा,‘हमारी लड़ाई आतंकवाद और इसके सभी स्वरूपों के खिलाफ है, ना कि किसी धर्म के खिलाफ जैसा कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी ओआईसी के सम्मेलन में अपने भाषण में स्पष्ट कर दिया था.’ उन्होंने यह भी कहा कि विंग कमांडर अभिनंदन की वीरता और पेशेवर निष्ठा के लिए वह देशवासियों के साथ उन्हें सलाम करते हैं.