close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लोकसभा, राज्यसभा के पटल पर रखा गया राष्ट्रपति का अभिभाषण

मंत्रिपरिषद में प्रधानमंत्री के अलावा 24 कैबिनेट मंत्री, नौ स्वतंत्र प्रभार वाले राज्य मंत्री और 24 राज्य मंत्री हैं.संसदीय कार्य राज्य मंत्री एम मुरलीधरन ने पिछले दिनों जारी किये गये 10 अध्यादेशों की प्रतियां भी सदन के पटल पर रखीं जिनके स्थान पर विधेयक लाए जाएंगे. 

लोकसभा, राज्यसभा के पटल पर रखा गया राष्ट्रपति का अभिभाषण
फोटो सौजन्य: ANI

नई दिल्लीः संसद के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में दिए गये राष्ट्रपति के अभिभाषण की प्रति को बृहस्पतिवार को लोकसभा एवं राज्यसभा के पटल पर रखा गया.दोनों सदनों की बैठक राष्ट्रपति के अभिभाषण के कुछ समय बाद बुलायी गयी थी. राज्यसभा में बैठक शुरू होने पर सभापति एम वेंकैया नायडू ने नये सदस्यों से शपथ लेने को कहा. असम से निर्वाचित होकर आये असम गण परिषद के वीरेन्द्र प्रसाद वैश्य और भाजपा के कामाख्या प्रसाद तासा ने सदन की सदस्यता की शपथ ली. 

नायडू ने सदन को सूचित किया कि सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत सदन के नेता होंगे. इसके बाद महासचिव ने राष्ट्रपति के अभिभाषण की प्रति को सदन के पटल पर रखा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभापति की अनुमति से अपनी मंत्रिपरिषद के सदस्यों का परिचय कराया. 

मंत्रिपरिषद में प्रधानमंत्री के अलावा 24 कैबिनेट मंत्री, नौ स्वतंत्र प्रभार वाले राज्य मंत्री और 24 राज्य मंत्री हैं.संसदीय कार्य राज्य मंत्री एम मुरलीधरन ने पिछले दिनों जारी किये गये 10 अध्यादेशों की प्रतियां भी सदन के पटल पर रखीं जिनके स्थान पर विधेयक लाए जाएंगे. इनमें तीन तलाक संबंधित अध्यादेश, कंपनी कानून संबंधी अध्यादेश, चिट फंड निषेध अध्यादेश आदि शामिल हैं. 

इसके बाद सदन को शुक्रवार पूर्वाह्न 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया. इसी प्रकार लोकसभा में भी राष्ट्रपति के अभिभाषण की प्रति को सदन के पटल पर रखा गया. इसके बाद लोकसभा को भी शुक्रवार पूर्वाह्न 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया.