"कश्‍मीर में कितने गाजी आए और चले गए... कश्‍मीर में जो घुसेगा, जिंदा नहीं लौटेगा"

लेफ्टिनेंट जनरल के जे एस ढिल्‍लन जीओसी, 15वीं कोर ने आतंकियों और उनके सरपरस्‍तों को कड़ी चेतावनी दे डाली. साथ ही भारतीय सुरक्षाबलों के कड़े इरादों को भी जाहिर किया. 

"कश्‍मीर में कितने गाजी आए और चले गए... कश्‍मीर में जो घुसेगा, जिंदा नहीं लौटेगा"
फोटो ANI

नई दिल्‍ली/श्रीनगर : पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर हुए आतंकी हमले और एनकाउंटर को लेकर मंगलवार को भारतीय सेना, सीआरपीएफ और जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस की साझा प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में लेफ्टिनेंट जनरल के जे एस ढिल्‍लन, जीओसी, 15वीं कोर ने आतंकियों और उनके सरपरस्‍तों को कड़ी चेतावनी दे डाली साथ ही भारतीय सुरक्षाबलों के कड़े इरादों को भी जाहिर किया. उन्‍होंने कहा कि न जाने कितने गाजी आए, कितने चले गए. 

उन्‍होंने आगे कहा कि आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद पाकिस्‍तानी सेना का ही बच्‍चा है. इसमें किसी को कोई शक नहीं.

पुलवामा हमले के 100 घंटे के भीतर कश्मीर में जैश की टॉप लीडरशिप को मार गिराया: सेना

लेफ्टिनेंट जनरल के जे एस ढिल्‍लन ने आतंकियों को दी ये कड़ी चेतावनी...

-सीमा पार से जो भी कश्‍मीर में घुसेगा, मारा जाएगा. 

-जो कश्‍मीर में घुसेगा, जिंदा नहीं लौटेगा.

-आतंकी वारदातों में शामिल लोगों पर कोई रहमदिली नहीं दिखाएंगे.

'कश्मीर में जो बंदूक उठाएगा, मारा जाएगा', आतंक के रास्‍ते पर निकले लोगों को भारतीय सेना का सख्‍त संदेश

-पुलवामा हमले में सौ फीसदी आईएसआई और पाकिस्‍तानी सेना का ही हाथ है. 

-जैश ए मोहम्‍मद को पाकिस्‍तानी सेना और आईएसआई ही कंट्रोल करती है.