कश्मीरियों पर हमलों के विरोध में घाटी के हिस्सों में रहा बंद

दिन में घाटी के व्यापारिक संगठनों की ओर से बुलाए गए एक बंद के आह्वान के कारण लाल चौक, मैसुमा, रेसिडेंसी रोड और अन्य आसपास के इलाकों में दुकानदारों ने अपनी दुकान शाम तीन बजे बंद कर दी. 

कश्मीरियों पर हमलों के विरोध में घाटी के हिस्सों में रहा बंद
(फोटो साभार - IANS)

श्रीनगर: जम्मू और राज्य के बाहर कश्मीरियों पर हमलों के विरोध में शनिवार को यहां लाल चौक सिटी सेन्टर और आसपास के इलाकों में एक बंद का आयोजन किया गया. 

दिन में घाटी के व्यापारिक संगठनों की ओर से बुलाए गए एक बंद के आह्वान के कारण लाल चौक, मैसुमा, रेसिडेंसी रोड और अन्य आसपास के इलाकों में दुकानदारों ने अपनी दुकान शाम तीन बजे बंद कर दी. 

व्यापारियों ने जम्मू और देश के अन्य हिस्सों में कश्मीरियों पर हमलों की निंदा के लिए एक विरोध मार्च का भी आयोजन किया. उन्होंने घाटी के बाहर कश्मीरी व्यापारियों और छात्रों की सुरक्षा की मांग की.

विभिन्न व्यापारिक संगठनों और कर्मचारी संगठनों ने भी यहां प्रेस कॉलोनी में एक प्रदर्शन का आयोजन किया. व्यापारिक संगठनों ने रविवार को कश्मीर बंद का भी आह्वान किया है.

कश्मीर ट्रेडर्स एंड मैन्युफैक्चरर फोरम, कश्मीर इकोनामिक्स एलायंस और अन्य व्यापारिक संगठनों ने बंद का आह्वान किया था. इस बीच, दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले में स्वत: स्फूर्त बंद के बीच प्रदर्शन भी हुए. जम्मू में हिंसक प्रदर्शनों और देश के अन्य हिस्सों में कश्मीरियों के कथित उत्पीड़न के विरोध में अनंतनाग शहर में अधिकतर दुकानें भी बंद रही.