close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

J&K: शोपियां में सुरक्षाबलों ने ढेर किए ISIS से जुड़े 2 आतंकी, हथियार और विस्‍फोटक बरामद

शोपियां के अवनीरा में करीब 3 घंटे चली मुठभेड़ में मारे गए दोनों आतंकियों के शव भी बरामद कर लिए गए हैं. घटनास्थल से हथियार और गोला-बारूद भी बरामद किए गए हैं.

J&K: शोपियां में सुरक्षाबलों ने ढेर किए ISIS से जुड़े 2 आतंकी, हथियार और विस्‍फोटक बरामद
शोपियां में मुठभेड़ में मारे गए 2 आतंकी. फोटो ANI

नई दिल्‍ली : जम्‍मू और कश्‍मीर के शोपियां में सुरक्षाबलों ने मंगलवार सुबह एनकाउंटर में दो आतंकियों को मार गिराया है. शोपियां के अवनीरा इलाके में सुबह-सुबह हुए एनकाउंटर में मारे गए दोनों आतंकियों के पास से बड़ी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद हुए है. एनकाउंटर के बाद इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है. 

शोपियां के अवनीरा में करीब 3 घंटे चली मुठभेड़ में मारे गए दोनों आतंकियों के शव भी बरामद कर लिए गए हैं. घटनास्थल से हथियार और गोला-बारूद भी बरामद किए गए हैं. इलाके में मोबाइल इंटरनेट सेवा स्थगित कर दी गई है. सूत्रों के अनुसार मारे गए आतंकी इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) के नए घोषित 'विलेयह हिंद' संगठन से जुड़े आतंकवादी थे जो पहले इस्‍लामिक स्‍टेट जम्‍मू-कश्‍मीर या जुंदुल खिलाफ कश्मीर के रूप में जाना जाता था. 

पुलिस ने दो आतंकवादियों के मारे जाने की भी पुष्टि की और कहा कि मुठभेड़ स्थल से हथियार और गोला-बारूद और अन्य आपत्तिजनक सामग्री के साथ मारे गए आतंकियों के शव बरामद किए गए हैं. पुलिस बयान के मुताबिक आतंकियों के पहचान और संगठन का पता लगाया जा रहा है.

देखें LIVE TV

वहीं एक पुलिस अधिकारी ने मारे गए आतंकियों की पहचान मांचवा कुलगाम के सयार अहमद भट और अवनीरा शोपियां के शाकिर अहमद वागे के रूप में की. बताया जा रहा है कि मारे गए दोनों आतंकी इस्लामिक स्टेट के नए घोषित 'विलेयह हिंद' संगठन से जुड़े आतंकवादी थे जो पहले आईएसजेके या जुंदुल खिलाफ कश्मीर के रूप में जाना जाता था. 

यह अभियान आधी रात के दौरान सेना के 1 आरआर, एसओजी और सीआरपीएफ की संयुक्त टीम ने अवनीरा गांव में चलाया था, जब सूचना थी कि कुछ आतंकी एक मकान में छुपे हैं. पुलिस के मुताबिक कॉर्डन-एंड-सर्च ऑपरेशन कुछ आतंकवादियों की उपस्थिति के बारे में विशिष्ट जानकारी के बाद शुरू किया गया था.

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि संयुक्त टीम ने संदिग्ध स्थान की ओर कुछ चेतावनी गोलियां चलाई. तभी छिपे हुए आतंकवादियों ने भी गोलियां चला दीं. एक भीषण मुठभेड़ शुरू हुई जो करीब 3 घंटों तक चली और आखिर में सुरक्षाबलों को सफलता हाथ लगी. गौरतलब है की इस वर्ष अब तक कश्मीर घाटी में 100 से अधिक आतंकियों को मारा गया है, जिनमें कई बड़े कमांडर भी शामिल हैं. मगर इस अंतराल के भीतर करीब 53 नए युवा भी आतंक की रहा पर चल पड़े हैं.