हैदराबाद एनकाउंटर मामले पर सुनवाई आज; SC के पूर्व जज की निगरानी में जांच का हो सकता है आदेश

Supreme Court : याचिका में पूरे मामले की एसआईटी जांच की मांग की गई है. साथ ही आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ FIR दर्ज करने की मांग की गई है. वकील जीएस मनी और अन्य की ओर से याचिका दायर की गई है. 

हैदराबाद एनकाउंटर मामले पर सुनवाई आज; SC के पूर्व जज की निगरानी में जांच का हो सकता है आदेश
फाइल फोटो...

नई दिल्‍ली : हैदराबाद एनकाउंटर (Hyderabad Encounter) को लेकर दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) आज सुनवाई करेगा. चीफ जस्टिस एसए बोबडे की अध्यक्षता वाली तीन जजों की पीठ सुनवाई करेगी. दरअसल, बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने हैदराबाद एनकाउंटर की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज से कराने का सुझाव दिया था. कोर्ट ने कहा था कि मामले से जुड़े पक्ष गुरुवार तक पूर्व जज के नाम पर सुझाव दें. तेलंगाना सरकार ने कहा था कि कोई भी आदेश देने से पहले सुन लीजिए, हमने अब तक क्या कदम उठाए हैं. याचिका में पूरे मामले की एसआईटी जांच की मांग की गई है. साथ ही आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ FIR दर्ज करने की मांग की गई है. वकील जीएस मनी और अन्य की ओर से याचिका दायर की गई है. 

गौरतलब है कि हैदराबाद में एक युवा महिला पशु चिकित्सक की निर्मम सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के एक सप्ताह बाद पुलिस ने शादनगर के पास एक 'मुठभेड़' में चारों आरोपियों को मार गिराया था. इस मुठभेड़ के बारे में मीडिया में जानकारी देते हुए साइबराबाद के पुलिस कमिश्‍नर वीसी सज्‍जनार ने बताया था कि घटना के बाद जांच में साइंटिफिक एविडेंस भी जुटाए गए थे, जिनके बाद आरोपियों को पकड़ा गया था.

इन्‍हें पुलिस हिरासत में भेजे जाने पर उनसे पूछताछ की गई थी. आरोपियों ने बताया था कि उन्‍होंने मौका ए वारदात के आसपास पर पीडि़ता का मोबाइल और अन्‍य सामान छिपाया गया था, इसलिए इन्‍हें लाया गया. जब सभी को यहां लाया गया और मौके पर ले जाया गया. आरोपियों ने पत्‍थर और डंडों से पुलिस पर हमला कर दिया और मोहम्मद आरिफ (26) और चिंताकुंटा चेन्नाकेशवुलु (20) ने पुलिस से हथियार छीन लिए और पुलिस टीम पर हमला कर दिया. सबसे पहले पुलिस पर हमला आरिफ ने किया, फिर चिंताकुंटा चेन्नाकेशवुलु ने.