close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाकिस्‍तान से सटे अमृतसर में कल सुनाई दी धमाकों की आवाजें आखिर क्‍या थीं, ये बड़ी वजह आई सामने

पाकिस्‍तान से सटे पंजाब के अमृतसर में गुरुवार रात लोगों को धमाकों की आवाजें सुनाई देने की खबरें शुक्रवार सुबह आईं.

पाकिस्‍तान से सटे अमृतसर में कल सुनाई दी धमाकों की आवाजें आखिर क्‍या थीं, ये बड़ी वजह आई सामने
भारतीय वायुसेना ने किया अभ्‍यास. फोटो ANI

नई दिल्‍ली : पाकिस्‍तान से सटे पंजाब के अमृतसर में गुरुवार रात लोगों को धमाकों की आवाजें सुनाई देने की खबरें शुक्रवार सुबह आईं. कुछ लोगों के मुताबिक गुरुवार देर रात 1:30 बजे तेज धमाकों की आवाज सुनाई दीं. पुलिस ने ऐसे किसी भी धमाके से इनकार किया. लेकिन अब इन धमाकों जैसी आवाज का असल कारण सामने आ गया है.

समाचार एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के मुताबिक कहा है कि गुरुवार देर रात भारतीय वायुसेना ने पंजाब और जम्‍मू में अपने लड़ाकू विमानों के जरिये किसी भी हालात से निपटने के लिए अभ्‍यास उड़ानें भरी थीं. इस अभ्‍यास के दौरान बड़ी संख्‍या में लड़ाकू विमानों ने अमृतसर समेत अन्‍य स्‍थानों के ऊपर सुपरसोनिक स्‍पीड में उड़ान भरी थी. माना जा रहा है कि इसी सुपरसोनिक स्‍पीड के कारण ही लोगों को धमाके जैसी आवाजें सुनाई दीं. भारतीय वायुसेना ने ये अभ्‍यास पाकिस्‍तानी वायुसेना द्वारा भविष्‍य में भारतीय हवाई क्षेत्र में घूसपैठ करने की आशंकाओं के मद्देनजर किया है. इसके जरिये भारतीय वायुसेना पाकिस्‍तान को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार है.

 

वहीं पुलिस ने धमाके जैसी किसी भी घटना से इनकार किया है. न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत करते हुए एडीसीपी जगजीत सिंह वालिया ने कहा कि मैं लोगों से अपील करता हूं कि वह किसी भी तरह के सोशल मीडिया की अफवाहों पर ध्यान न दें. सब कुछ सही है. हमें अभी तक किसी भी तरह की अनहोनी की घटना की कोई जानकारी नहीं मिल रही है. 

अमृतसर के कुछ लोगों का कहना है कि यह धमाके विमान के गुजरने के कारण हुए थे. ऐसा भी बताया जा रहा है कि धमाके इतने जोरदार थे कि इनकी आवाज सिर्फ अमृतसर शहर ही नहीं बल्कि आसपास के क्षेत्रों में भी सुनाई दी. कुछ सोशल मीडिया पोस्ट पर लिखा गया है कि धमाकों के कारण कुछ घरों के शीशे टूट गए और लोगों में डर का माहौल पैदा हो गया.

शहर में कई जगह पुलिस ने लोगों को समझा कर घरों को भेजा. इसी बीच पुलिस कमिश्नर एसएस श्रीवास्तव और डीसी शिव दुलार सिंह ढिल्लों ने बताया कि अभी तक उन्हें धमाके कहां पर हुए हैं इसकी जानकारी नहीं मिली है. जांच की जा रही है. उन्होंने लोगों से अपील की वह किसी भी तरह की अफवाहों पर ध्यान न दें.