Zee Rozgar Samachar

तमिलनाडुः शिक्षक ने पहले मां, पत्नी और बच्चों को दे दिया जहर, फिर फांसी पर लटकर दे दी जान

'वह काफी समय से अपनी कमर दर्द और काम के चलते कई किलोमीटर की यात्रा से उदास था, जिसके चलते उसने खुद की जान देने का फैसला किया है.'

तमिलनाडुः शिक्षक ने पहले मां, पत्नी और बच्चों को दे दिया जहर, फिर फांसी पर लटकर दे दी जान
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

तमिलनाडुः तमिलनाडु के कोयम्बटूर जिले में बीते शुक्रवार की रात को एक सरकारी कर्मचारी ने पहले तो अपनी पत्नी, मां और बच्चों को जहर देकर मार डाला और फिर खुद फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. मिली जानकारी के मुताबिक घटना स्थल से पुलिस को एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है, जिसमें कर्मचारी ने अपनी मौत का कारण उदासी और तनाव बताया है. उसने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि 'वह काफी समय से अपनी कमर दर्द और काम के चलते कई किलोमीटर की यात्रा से उदास था, जिसके चलते उसने खुद की जान देने का फैसला किया है, लेकिन वह अपने परिवार को भी अकेला नहीं छोड़ना चाहता था, जिसके चलते वह अपने परिवार को भी मार रहा है.'

मुरादाबाद: TMU हॉस्टल में पंखे से लटका मिला BBA की छात्रा का शव, मचा हड़कंप

बता दें मृतक कोयम्बटूर में एक स्कूल शिक्षक के रूप में काम कर रहा था, जो यहां अपनी मां, पत्नी और दो बच्चों के साथ रह रहा था. शिक्षक के पड़ोसियों ने बताया कि शनिवार को सुबह बहुत देर तक घर का दरवाजा नहीं खुला, जिसके चलते पड़ोसियों ने घर का दरवाजा खटखटाया, लेकिन इन सब के बाद भी दरवाजा नहीं खुला. इस पर पड़ोसियों को कुछ संदिग्ध घटना की आशंका हुई, जिसके चलते पड़ोसियों ने पुलिस को फोन कर इसकी सूचना दी.

 

नासिक: प्याज के दाम गिरने से दुखी किसान ने जहर पीकर किया सुसाइड

घटना स्थल पर पहुंचने पर पुलिस घर का दरवाजा तोड़कर अंदर घुसी तो देखा कि घर की छत से एंटनी (मतृक शिक्षक) का शव लटका हुआ है. वहीं चार अन्य (एंटनी की मां, पत्नी और दो बच्चों) बिस्तर पर मृत अवस्था में मिले. जिसके बाद पुलिस ने सभी शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. वहीं घटना स्थल पर मिले सुसाइड नोट में एंटनी ने अपनी मौत का कारण अपनी खराब शारीरिक अवस्था और इस अवस्था में कई किलोमीटर दूर नौकरी करने जाने को बताया है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.