उत्तराखंड के नचिकेता ताल में ध्यान- साधना करने पहुंचीं उमा भारती, जानिए इसकी विशेषता

वरिष्ठ बीजेपी नेता उमा भारती उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले के नचिकेता ताल में ध्यान-साधना करने पहुंची हैं. 

उत्तराखंड के नचिकेता ताल में ध्यान- साधना करने पहुंचीं उमा भारती, जानिए इसकी विशेषता
.(फाइल फोटो)

देहरादून: वरिष्ठ बीजेपी नेता उमा भारती उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले के नचिकेता ताल में ध्यान-साधना करने पहुंची हैं. पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा का एक माह के अंदर उत्तरकाशी जिले का यह दूसरा दौरा है. प्रशासन ने नचिकेता ताल में उमा के ठहरने और सुरक्षा संबंधी सुविधायें उपलब्ध कराई हैं. उत्तरकाशी के पुलिस अधीक्षक पंकज भट्ट ने बताया कि पूर्व केंद्रीय मंत्री को नियमों के हिसाब से सुरक्षा उपलब्ध कराई गई है. हालांकि, अभी यह पता नहीं चल पाया है कि उमा कितने दिन नचिकेता ताल में ध्यान-साधना करेंगी. टिहरी और उत्तरकाशी जिले की सीमा पर स्थित नचिकेता ताल एक खूबसूरत झील है.

माना जाता है कि ऋषि उद्दालक ने अपने पुत्र नचिकेता के लिये इस झील का निर्माण किया था. पिछले महीने गंगोत्री और यमुनोत्री मंदिर के कपाट खुलने के अवसर पर भी उमा उत्तरकाशी जिले में आयी थीं जहां गंगोत्री के पास धराली गांव के कल्प केदार मंदिर में उन्होंने दो दिन ध्यान-साधना की थी.

उमा पिछले कई वर्ष से उत्तराखंड के मंदिरों में दर्शन और साधना के लिये आती रही हैं.