भारतीय सेना के जांबाज डॉग्स के लिए तैयार की गई बुलेट प्रूफ जैकेट, मिलेगा यह आधुनिक सिस्टम

यूनिट का नेतृत्व करने वाले लेफ्टिनेंट कोलोनल वी कमल राज ने कुत्तों के लिए एक ऑडियो-वीडियो सर्विलांस सिस्टम तैयार किया है. 

भारतीय सेना के जांबाज डॉग्स के लिए तैयार की गई बुलेट प्रूफ जैकेट, मिलेगा यह आधुनिक सिस्टम
कुत्तों के लिए तैयार किया गया ऑडियो-वीडियो सर्विलांस सिस्टम

नई दिल्ली: भारतीय सेना की डॉग यूनिट को अपडेट किया गया है. इस यूनिट का नेतृत्व करने वाले लेफ्टिनेंट कोलोनल वी कमल राज ने कुत्तों के लिए एक ऑडियो-वीडियो सर्विलांस सिस्टम तैयार किया है. ऑपरेशन्स को अंजाम देने के उद्देश्य से कुत्तों के लिए बुलेट प्रूफ जैकेट भी तैयार की गई हैं. लेफ्टिनेंट कोलोनल वी कमल राज ने बताया, 'हम सेना के कुत्तों को अनेक उद्देश्यों के लिए ट्रेनिंग देते हैं. इसलिए हमारी ये जिम्मेदारी है कि हम उन्हें सुरक्षा दें.' 

 

बता दें कि भारतीय सेना अपनी डॉग यूनिट का बहुत ध्यान रखती है. क्योंकि महत्वपूर्ण मिशनों पर ये डॉग यूनिट सेना की बहुत मदद करती है. 26/11 मुंबई हमले में कई लोगों की जान बचाने वाले डॉगी सीजर को लोग आज भी याद करते हैं. हालांकि अब सीजर इस दुनिया में नहीं है. 11 साल के बहादुर डॉग सीजर ने मुंबई के विरार स्थित एक फार्म में हार्ट अटैक की वजह से अंतिम सांस ली थी.

26/11 हमले के दौरान से आतंकियों का पता लगाने वाले डॉग स्क्वॉयड का यह आखिरी कुत्ता था. इससे पहले उसके दूसरे साथी टाइगर, सुलतान और मैक्स की भी मौत हो चुकी थी. पुलिस के मुताबिक रिटायर होने के बाद सीजर पशु प्रेमी फिजा शाह के विरार स्थित फार्म हाउस में रह रहा था. इलाज के बाद उसे वापस फार्म हाउस भेजा गया था जहां उसकी मौत हो गई थी. 

ये वीडियो भी देखें: