AAP-कांग्रेस गठबंधन की अटकलें तेज, गुलाम नबी आजाद से मिले संजय सिंह

इस मुलाकात के बारे में पूछे जाने पर आजाद ने गठबंधन को लेकर बातचीत होने से इनकार करते हुए कहा, ‘हम संसद सदस्य हैं तो अक्सर एक दूसरे से मिलते रहते हैं.’ 

AAP-कांग्रेस गठबंधन की अटकलें तेज, गुलाम नबी आजाद से मिले संजय सिंह

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने बुधवार को कांग्रेस के हरियाणा प्रभारी गुलाम नबी आजाद से मुलाकात की जिसके साथ ही दिल्ली और हरियाणा में दोनों पार्टियों के बीच गठबंधन को लेकर एक बार फिर से अटकलें तेज हो गईं.

इस मुलाकात के बारे में पूछे जाने पर आजाद ने गठबंधन को लेकर बातचीत होने से इनकार करते हुए कहा, ‘हम संसद सदस्य हैं तो अक्सर एक दूसरे से मिलते रहते हैं.’ उन्होंने कहा,‘दिल्ली में गठबंधन को लेकर कौन बात कर रहा है मुझे नहीं पता, लेकिन हरियाणा को लेकर कोई बातचीत नहीं हुई.’

आप ने रखा कांग्रेस के सामने प्रस्ताव
दूसरी तरफ, सूत्रों का कहना है कि आजाद के साथ मुलाकात में संजय सिंह ने प्रस्ताव दिया कि हरियाणा में कांग्रेस छह, जननायक जनता पार्टी (जजपा) तीन और आप एक सीट पर चुनाव लड़े. हालांकि कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि हरियाणा को लेकर अभी कोई सहमति नहीं बनी है, लेकिन पार्टी 7:2:1 के फार्मूले पर विचार कर सकती है.

कांग्रेस कर चुकी है 4:3 के फार्मूले की पेशकश
कांग्रेस दिल्ली के लिए पहले ही आप को 4:3 के फार्मूले की पेशकश कर चुकी है, लेकिन दिल्ली के साथ हरियाणा में गठबंधन पर जोर दे रही है. आप सूत्रों का कहना है कि अगर गठबंधन सिर्फ दिल्ली में होगा तो फिर 5:2 फार्मूले पर होगा. 

इस बीच, आप सूत्रों का कहना है कि पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल के आवास पर पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की बैठक हुई जिसमें दिल्ली एवं हरियाणा में कांग्रेस के साथ गठबंधन के फार्मूले पर बातचीत हुई. बैठक में केजरीवाल के साथ मनीष सिसोदिया और गोपाल राय मौजूद रहे.