close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

#ZeeमहाExitPoll : इस चैनल का अनुमान, दिल्‍ली में कांग्रेस-आप को एक-एक सीट पर हो सकता है फायदा

 इन दोनों एग्जिट पोल के रुझानों में आम आदमी पार्टी को दिल्‍ली में बुरी शिकस्‍त मिलने का अनुमान जताया गया है.

#ZeeमहाExitPoll : इस चैनल का अनुमान, दिल्‍ली में कांग्रेस-आप को एक-एक सीट पर हो सकता है फायदा

नई दिल्‍ली/चंडीगढ़: लोकसभा चुनाव (lok sabha elections 2019) संपन्‍न होने के साथ ही सबकी निगाहें एक्जिट पोल 2019 (Exit Poll 2019) पर है. इंडिया टीवी-सीएनएक्‍स ने अपने रुझानों कहा है कि इस बार भी दिल्‍ली में बीजेपी सातों सीटें जीतेगी, जबकि कांग्रेस और आप को कुछ भी कामयाबी हासिल नहीं होगी. वहीं, टाइम्‍स नाऊ-वीएमआर ने अपने एग्जिट पोल में अनुमान जताया है कि दिल्‍ली में बीजेपी को 6, जबकि कांग्रेस को एक सीट मिलने का अनुमान है. इस तरह इस रुझान में कांग्रेस को एक सीट का फायदा होते दिख रहा है. इन दोनों एग्जिट पोल के रुझानों में आम आदमी पार्टी को दिल्‍ली में बुरी शिकस्‍त मिलने का अनुमान जताया गया है.

एबीपी-नीलसन ने अपने सर्वे में कहा कि दिल्‍ली में बीजेपी को 5, कांग्रेस को 1 तथा आम आदमी पार्टी को एक सीट मिलने का अनुमान है.

दरअसल, 2014 के नतीजों में दिल्‍ली की सातों लोकसभा सीटों पर भाजपा ने जीत हासिल की थी. फिलहाल कांग्रेस पूर्व मुख्‍यमंत्री और अपनी कद्दावर नेता शीला दीक्षित के बल पर दिल्‍ली में चमत्‍कार होने की उम्‍मीद जता रही है तो अरविंद केजरीवाल के नेतृत्‍व वाली आम आदमी पार्टी किसी भी तरह से दिल्‍ली में लोकसभा सीटें जीतने की उम्‍मीद में है.

दिल्ली में बीते 12 मई को सभी सात लोकसभा सीटों पर 60.21 प्रतिशत मतदान हुआ, जो पिछले चुनाव (65 प्रतिशत) से कम रहा. इस दौरान कई इलाकों से ईवीएम में खराबी और मतदाता सूची में नाम नहीं होने की खबरें भी सामने आईं थी.

दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी रणबीर सिंह ने बताया था कि मतदाताओं को मतदान केन्द्रों तक लाने के लिये उनके कार्यालय की ओर से जागरूकता अभियान चलाए जाने के बावजूद उम्मीदों के मुताबिक मतदान नहीं हुआ.

कुल सात सीटों में चांदनी चौक सीट पर 62.69 प्रतिशत, उत्तर-पूर्वी दिल्ली सीट पर 63.45 प्रतिशत, नयी दिल्ली सीट पर 56.47 प्रतिशत, पूर्वी दिल्ली सीट पर 61.95 प्रतिशत, उत्तर पश्चिम दिल्ली सीट पर 58.99 प्रतिशत, दक्षिण दिल्ली सीट पर 57.3 और पश्चिमी दिल्ली सीट पर 60.64 प्रतिशत मतदान हुआ.

दिल्ली में 1.43 करोड़ मतदाता हैं. 164 उम्मीदवारों चुनाव मैदान में हैं, जिसमें पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित, केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन, दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी, पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर और आप की आतिशी शामिल हैं. भाजपा, कांग्रेस और आप ने सभी सात सीटें जीतने का भरोसा जताया है.