मोदी कैबिनेट में शामिल हो सकते हैं एस. जयशंकर, प्रधानमंत्री आवास से आया न्योता

एस जयशंकर को इस साल मार्च में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित कर चुके हैं.

मोदी कैबिनेट में शामिल हो सकते हैं एस. जयशंकर, प्रधानमंत्री आवास से आया न्योता
एस जयशंकर ने 7 लोक कल्याण मार्ग (प्रधानमंत्री आवास) पर जाकर नरेंद्र मोदी से मुलाकात की.

नई दिल्ली: पूर्व विदेश सचिव एस. जयशंकर केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल हो सकते हैं. इसके संकेत तब मिले जब गुरुवार को होने वाले शपथ ग्रहण समारोह से पहले उन्होंने 7 लोक कल्याण मार्ग (प्रधानमंत्री आवास) पर जाकर नरेंद्र मोदी से मुलाकात की. यह बैठक केवल चुनिंदा लोगों के लिए आयोजित की गई थी, जिन्हें गुरुवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल में शामिल किया जाना है.

एस जयशंकर ने जनवरी 2015 से जनवरी 2018 तक भारत के विदेश सचिव के रूप में कार्य किया है. उन्हें चीन के साथ बातचीत के माध्यम से डोकलाम गतिरोध को सुलझाने में मदद करने का श्रेय दिया जाता है. इससे पहले 2007 में, उन्होंने यूपीए सरकार द्वारा हस्ताक्षरित भारत-अमेरिका असैन्य परमाणु समझौते पर बातचीत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी.

पिछले साल आईएफएस सेवाओं से अपनी सेवानिवृत्ति के बाद, उन्होंने टाटा समूह के ग्लोबल कॉर्पोरेट मामलों के अध्यक्ष के रूप में पदभार संभाला था.

एस जयशंकर को इस साल मार्च में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद द्वारा पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.

64 वर्षीय जयशंकर 1977 में भारतीय विदेश सेवा में शामिल हुए थे. उन्होंने चीन, अमेरिका और चेक गणराज्य में भारतीय राजदूत के रूप में काम किया है और वह सिंगापुर में उच्चायुक्त रह चुके हैं.